- Advertisement -

सिरमौर में विद्युत एमरजेंसी लागू, कम से कम करें बिजली इस्तेमाल, विभाग का आहवान

लोगों को ऐसे दी जा रही राहत, इस कारण खड़ी हुई बड़ी समस्या

अशोक बहुता। पांवटा साहिब
सिरमौर जिला में विद्युत विभाग ने एमरजेंसी घोषित की है। इसके कारण लोगों को 10 जुलाई तक परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। दरअसल उत्तराखंड के 220 केवी खोदरी उपकेंद्र में लाइन में 7 से 10 जुलाई तक आकस्मिक कार्य करने की स्वीकृति ली गई है। इसके कारण हिमाचल को 220 केवी खोदरी माजरी लाइन से विद्युत लोड लेना मुश्किल हो रहा है। यह जानकारी देते हुए बिजली बोर्ड के उपनिदेशक लेक सपंर्क अनुराग परशर ने बताया कि सामान्यता खोदरी-माजरी लाइन से हिमाचल को 150 मैगावाट बिजली मिलती है।

इससे सिरमौर के औद्योगिक क्षेत्र कालाअंब, पांवटा साहिब सहित नाहन क्षेत्रों को बिजली की आपूर्ति की जाती है। मगर उत्तराखंड द्वारा लिए गए आकस्मिक मरम्मत के कार्य के चलते 10 जुलाई तक इन क्षेत्रों में बिजली की आपूर्ति प्रभावित हो सकती है। इससे विद्युत आपूर्ति में कट लग सकते हैं। उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश स्टेट इलेक्ट्रीसिटी बोर्ड ने इन क्षेत्रों की विद्युत मांग को पूरा करने के लिए 200 केवी सोलन-गिरी लाइनों के माध्यम से 80 मेगावाट अतिरिक्त लोड उपलब्ध करवाने में सफलता हासिल की है।

फिर भी कालाअंब, पांवटा साहिब व नाहन क्षेत्रों में आज से 10 जुलई तक 70 मैगावाॅट विद्युत कम रह सकती है। गिरी विद्युत गृह की कमी को पूरा करने के प्रयास भी पूरी तरह से जारी है। उन्होंने बताया कि बोर्ड ने उत्तराखंड से खोदरी सबस्टेशन में उपकरणों की तत्कल मरम्मत सुधार के लिए अनुरोध किया है। प्रभावित क्षेत्रों में विद्युत आपूर्ति के प्रयास जल्द ही ठीक हो जाने की आशा है। बोर्ड ने प्रभावित क्षेत्रों के विद्युत उपभोक्ताओं से सहयोग की अपील की है।

इस बारे में चैम्बर आफ काॅमर्स के अध्यक्ष सतीश गोयल ने बताया की उनकी जानकारी के अनुसार शनिवार से सोमवार तक समस्या रहने वाली है। ऐसे में उघौमियों को इन तीन दिनों में करोड़ो रूपये का नुकसान पहूंच रहा है ।

क्या बोले एक्सीएन पांवटा
इस बारे में एक्सीएन दर्शन सिंह ने बताया की उतराखंड़ स्थिति खोदरी माजरी के पास ग्रिड़ फेल हुआ है । हालाँकि हमारी अधिकारियों की टीम लगातार उनके साथ संर्पक में है व हर तरह की मदद कर रही है लेकिन फिर भी सोमवार तक उम्मीद की जा सकती है की हम इस समस्या से बाहर आ पाएँ ।

hids

Leave A Reply

Your email address will not be published.