मंडी के युवक को इस मामले में अदालत ने किया दोषी करार, 10 साल की सजा

hids hids

आरके शर्मा। ऊना
अतिरिक्त सत्र न्यायधीश कोर्ट नंबर दो अमन सूद की अदालत ने एनडीपीएस एक्ट में मंडी के एक युवक को दोषी करार देते हुए दस साल के कठोर कारवास तथा एक लाख रुपए जुर्माना अदा करने की सजा सुनाई है। जुर्माना अदा न करने पर एक साल का अतिरिक्त कारवास भुगतना पड़ेगा। मामले में एक युवक को साक्ष्यों के अभाव में बरी कर दिया गया है। मामले की जानकारी देते हुए जिला न्यायवादी अशोक कुमार ने बताया कि मामले की पैरवी सरकारी वकील देवेंद्र चौधरी ने की।

उन्होंने बताया कि 12 अगस्त 2016 को भरवाई में एसआईयू टीम ने नाकाबंदी के दौरान कार नंबर एचपी-33डी-5887 को चेक किया था। इस दौरान नाका टीम में हाशिम अली, भूप सिंह, अंकुश डोगरा, अमरीक सिंह व शौकीन मोह म पर आधारित टीम ने कार में सवार गुड्डू उर्फ बांकू निवासी मंडी से 1.700 चरस बरामद की थी। इस दौरान कार में परमानंद निवासी टिहरी मंडी भी शामिल था। मामले को लेकर पुलिस ने 13 गवाह पेश किए। जिसमें फैसला सुनाते हुए अदालत ने गुड्डू उर्फ बांकू को दोषी करार दिया है व साक्ष्यों के अभाव में परमानंद को बरी करने का फैसला सुनाया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.