फोरेंसिक टीम की मदद लेगी पुलिस, आज उठा सकते हैं जली लाश के अंश

सुनयना की जान अगर समय रहते कार्रवाई करती पुलिस : वकील

hids hids

न्यूज़घाट टीम। पांवटा साहिब

सुनयना के वकील आसिफ अंसारी का आरोप है कि माजरा थाना के अंतर्गत ऑनर किलिंग के मामले में अपहरण के बाद पुलिस ने महिला को बचाने की कोई कोशिश नहीं की। उधर एसपी सिरमौर ने सभी आरोपों की जांच का आश्वासन दिया है ।

मृतक के वकील आसिफ अंसारी के अनुसार मृतक की जान बचाई जा सकती थी जिस वक्त महिला को जबरन टवेरा लाल रंग की गाड़ी में उठाया जा रहा था। उस वक्त उन्होंने तुरंत पुलिस को इस अपहरण की जानकारी दी थी। जिसके बाद एसएचओ ने कहा की माजरा से साथ आए पुलिस कर्मी ही कुछ कर सकते है। इसके बाद आरिफ अंसारी ने लेकिन पूरी रात पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। नतीजा महिला की रात में ही हत्या कर दी गई और रविवार को अंतिम संस्कार भी कर दिया गया।

झूठी इज्जत बचाने का मामला

जानकारी के अनुसार कुछ रोज पहले सुनैना एक युवक (गैर हिंदू) के साथ अचानक कही चली गई । कुछ दिनों बाद जब वह लौटी तो उसने 22 जून को अपने वकील आरिफ अंसारी के साथ माजरा थाने में अपनी शिकायत दर्ज की थी जिसके तहत उसने ससुराल और मायके नहीं जाने की बात कही। रात भर सुनयना महिला पुलिस आरक्षी के साथ थाने में रही अगले दिन पुलिस ने SDM कोर्ट में पेश किया ।

hids

एसपी करेंगे पूरे मामले की जांच मामले में पुलिस फोरेंसिक की मदद लेगी। इस बारे में एसपी सिरमौर रोहित मालपानी ने बताया कि मामले की जांच गहनता से की जा रही है । महिला को जबरन उठाया गया या वह अपनी मर्जी से गई है। इसकी जांच की जा रही है । इसके अलावा अधिवक्ता के आरोपों की भी जांच की जाएगी ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.