अब मनाली पहुंचने की जल्दी में पर्यटक, पतलीकूहल से आगे नही भेजी जा रही बसे

बीके शर्मा। कुल्लू
ज़िला कुल्लू में गत दो दिनों से हो रही बारिश व बर्फबारी से घाटी का मौसम सुहावना होगया है। भारी बर्फबारी से पर्यटन नगरी मनाली सहित सोलंगनाला,फातरु, कोठी, गुलाबा सहित अन्य पर्यटक स्थल बर्फ से लद गए है। वही, मनाली के ट्रैवल एजेंटों सहित होटल की वेबसाइटों पर भी बर्फबारी के ताजा फ़ोटो लोड किये गए है। जिसे देख कर अब बाहरी राज्यो के पर्यटक मनाली आने को उत्सुक हो गए है। पर्यटक मनाली में होटल संचालको से सम्पर्क साध रहे है और होटल संचालक भी पर्यटको को बेहतरीन ऑफर दे रहे है।
     वही, मंगलवार को निगम सहित सभी बसों को पतलीकूहल में रोका जा रहा है और वहाँ से सिर्फ छोटे वाहन ही आगे जा पा रहे है। वाम तट की और से भी वाहनों को नग्गर से आगे नही जाने दिया जा रहा है । भारी बर्फबारी के चलते पतलीकूहल से लेकर मनाली तक सड़क पर फिसलन बढ़ गई है और लोगो की सुरक्षा को ध्यान मेरखते हुए फिलहाल बस सेवा को बंद कर दिया गया है। मिली जानकारी के अनुसार पर्यटन नगरी मनाली में भी आधा फीट बर्फ गिरी है। मशहूर पर्यटन स्थल मढ़ी में तीन फीट , गुलाबा ओर फातरु में 2 फीट, कोठी सोलंग में डेढ़ फीट, कुलंग मझाच में एक फीट, बरुआ शनाग, गोशाल, बशिष्ठ, मनाली गांव में पौना फीट तथा पर्यटन नगरी मनाली में आधा फीट बर्फबारी हुई है।
    मनाली के बामतट मार्ग में मनाली से नगर तक बर्फ की चादर बिछी है जबकि राइट बैंक में मनाली से 15 मील तक बर्फ के फाहे गिरे है। वहीं, लाहुल घाटी में भी भारी बर्फबारी हुई है। कोकसर, दारचा और नैनगार में ढाई फीट से अधिक बर्फ गिरी है। चन्द्रा घाटी में और गाहर घाटी में दो फीट जबकि पटन घाटी में एक से डेढ़ फीट तक बर्फ गिरी है।
Facebook Comments

Related posts