शनाग गांव की विद्या नेगी को मिलेगा वूमेन एक्सिलेंसी अचीवमेंट अवार्ड

बीके शर्मा। कुल्लू
समाजसेवा में उत्कृष्ट कार्य करने पर मनाली के शनाग गांव की विद्या नेगी को वूमेन एक्सिलेंसी अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। उन्हें यह पुरस्कार विया इंडिया अवार्ड ग्रुप राजस्थान के जयपुर में 18 जनवरी को होने वाले कार्यक्रम में प्रदान किया जाएगा। दो दशक से समाजसेवा के लिए समर्पित विद्या नेगी ने महिला उत्थान के साथ पर्यावरण को बचाने के लिए भी पहल की है। वह 21 साल की उम्र में पंचायत प्रधान बनी और महिलाओं के हितों के लिए कई कार्य किए। हिमालयन नीति अभियान से जुड़कर विद्या नेगी ने जन, जल, जंगल, जानवर व जमीन को बचाने के लिए सराहनीय कार्य किया है।

    उन्होंने प्राकृतिक संसाधनों के बेहतर इस्तेमाल व संरक्षण पर भी काम किया। विद्या नेगी ने नशाबंदी, दहेज प्रथा, महिला उत्पीड़न और महिलाओं के अधिकारों के लिए लड़ाई लड़ी। वह 1992 से साक्षरता अभियान से जुड़ी और उन्होंने गांव-गांव जाकर लोगों को साक्षर बनाने में योगदान दिया। उन्होंने कुल्लू, चंबा और कांगड़ा के दूरदराज क्षेत्रों की महिलाओं की मदद करने के लिए रूरल टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट सेंटर का गठन किया। आज तक वह लगभग 300 महिला उत्पीड़न के मामले सुलझा चुकी हैं। उन्होंने जाति प्रथा के अभिशाप को दूर करने के लिए भी काम किया। इस विषय पर द करेज रोड से ट्रेवल नामक एक डॉक्यूमेंट्री भी बनाई। कुल्लू के लगभग 700 महिला मंडलों का गठन कर ग्रामीण महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने में अहम भूमिका निभाई।

chauhan

प्राकृतिक संसाधनों का बेहतर इस्तेमाल सीखना होगा
विद्या नेगी का कहना है कि प्राकृतिक संसाधनों का बेहतर इस्तेमाल करना मनुष्य को सीखना चाहिए। उन्होंने खुशी जताई कि विया इंडिया अवार्ड ग्रुप उन्हें 18 जनवरी को जयपुर के राजस्थान में सम्मानित कर रहा है।

negi
Facebook Comments
vishal-garments

Related posts