कंक्रीट जंगल में तबदील हुआ नगीना कहा जाने वाला शहर, नाहन की खूबसूरती पर लगा ग्रहण

अंजलि त्यागी। नाहन
नाहन शहर नगीना आए दो दिन ठहरे महिना, ये ऐसी कहावत है जोकि एतिहासिक शहर नाहन की खुबसूरती का बखान करती है परंतु इन दिनों नाहन शहर की खूबसूरती पर ग्रहण लग चुका है और वो ग्रहन है मकानों के ताबड़तोड़ निर्माण का, जिसने नाहन को ही नही बल्की इसकी बड़ी चौड़ी गलियों को संकरी कर दिया है। बेतरतीब व अंधाधुध भवन निर्माण ने नाहन को एक कंक्रीट जंगल में तब्दील कर दिया है।

vishal-garments

    बढ़ती आबादी व अपना सपनों का घर की मंशा ने नाहन में हर छोटी से छोटी जगह को महत्वपूर्ण बना दिया है, इसके चलते लोग द्वारा धड़ाधड़ इमारत दर इमारत खड़ी की जा रही है नतीजतन नाहन की सडक़ों पर एक्रांचमेंट का दिन ब दिन बढ़ता जा रहा है। हैरानी की बात तो यह है कि किसी भी भवन के निर्माण को लेकर नप द्वारा सभी नियम बनाए गए बावजूद इसके बेतरतीब तरीके से भवनों का निर्माण लगातार जारी है। आलम यह है कि इन किसी आगजनी घटना की सूरत में अग्रिशमन वाहन जाने का रास्ता ही नही बचा है, यादि किसी व्यक्ति की मौत हो जाए ता शव को ले जाने तक के लिए लोगो को संर्घष करना पड़ता है, अपने ही घरों में भारी सामान पहुचाने के लिए लोगो को छतों के ऊपर से सामान लेकर जाना पड़ रहा है।


eFashini

  • Email : info@brazatyres.com | brazatyres@gmail.com Office : 8894339123 | Mobile : 9816022546

     ऐसे में नाहन में चौड़ी सडक़ व खुली गलियों एक सपना बनकर रह गई है। विड़बना ये है कि नियमों की धज्जियां उड़ाने वाले लोगो पर नप का शिंकजा बेबश नजर आ रहा है। नाहन के नया बाजार, र्पुिबया मोहल्ला, ढाबो मोहल्ला, पक्का टेंक सहित दर्जनों ऐसे मोहल्ले है जो एनक्रॉच मेंट की भेंट चढ़ चुकेद है। जहां पहले ही शहर में सफाई व्यवस्था चरमरा कर रह गई है वही गलियों पर हो रही अवैध कब्जों पर नप का डंडा खामोश चला आ रहा है। बुद्विजीवी वर्ग का कहना है कि पिछले कई सालों में नाहन में मकानों की संख्या विस्फोटक रूप से बढ़ी है। जिस कारण नाहन में पैदल सफर करना तक दुश्वार हो चला है।

     गलियों में अवैध तरीके से सीडियों व छछों का निर्माध इस कदर से बढ़ता आ रहा है कि अधिकांश गलियों का अस्तित्व ही समाप्त हो चुका है। इस बारे में नाहन नगर परिषद कार्यकारी अधिकारी एसएस नेगी ने बताया कि अधिकांश ऐसे मोहल्लों में लोगो की व्यक्तिगत भूमि पर ही निर्माण होता है परंतु गलियों पर अवैध कब्जों को किसी भी हाल में स्वीकारा नही जा सकता इस मामले में इन मोहल्लों में अवैध कब्जाधारकों के खिलाफ जल्द ही कारवाई अमल में लाई जाएगी।

Facebook Comments

Related posts