output_lYKRAR.gif

वन मंत्री के खिलाफ लगे मुर्दाबाद के नारे, जानिए क्या है वजह

न्यूजघाट टीम। सुंदरनगर
बुधवार को धनोटू में ‘वन मंत्री मुर्दाबाद, ‘वन मंत्री मुर्दाबाद के नारे लगे। टिंबर एसोशिएसन सुंदरनगर के सदस्यों ने सरकार व वन मंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। टिंबर एसोशिएसन के सदस्यों व ठेकेदारों सहित मजदूरों ने ई-टेंडरिंग का विरोध करते हुए पुरानी स्थिति को बहाल करने की मांग की। जानकारी देते हुए टिंबर एसोशिएसन के प्रधान राकेश कुमार, नारायण दास, कांसी राम, चेतराम, दुर्गा दास मनोज कुमार, टेक सिंह ने कहा कि ई-टेंडरिंग से सरकार को तो घाटा हो ही रहा है साथ में ठेकेदारों की लाखों रुपयों की लकड़ी भी गोदामों में सड़ रही है।

vishal-garments

    ठेकेदार यादविंद्र ने बताया कि 70 लाख रुपए की लकड़ी बिना बिके ही सड़ रही है। वहीं मजदूरों सोहन लाल, गुलाब सिंह, खेमचंद, सतीश कुमार, गोपाल, चिंत राम ने बताया कि काम नहीं होगा तो पैसा नहीं आएगा। ई-टेंडरिंग होने से लकड़ी नहीं बिक रही है, जिससे परिवार का पालन-पोषण करना मुश्किल हो गया है। टिंबर एसोशिएसन के प्रधान राकेश कुमार ने कहा कि आम आदमी को यदि लकड़ी खरीदनी होगी तो पहले 1700 रुपए फीस जमा करवाए, फिर लाइन में लगे और जब बारी आए तो विभाग कहे कि लकड़ी खत्म हो चुकी है, तो यह आम आदमी के साथ अन्याय है। सरकार किसी बाहरी कंपनी को क्यों हमारे जंगलों को ठेके पर देना चाहती है।

    टिंबर एसोशिएसन के सदस्यों ने कहा कि सरकार किसी कंपनी को प्रदेश के जंगलों को कटने के लिए देने वाली है, जो हमारे पर्यावरण और समाज के लिए नकारात्मक होगी।

output_cvUt6r.gif
Facebook Comments

Related posts