नाबालिग बच्ची ने सहा Abortion का दर्द, दुष्कर्म मामले में चाइल्ड लाइन कमेटी ने किया नया खुलासा

न्यूजघाट टीम। नाहन। पांवटा साहिब
दुष्कर्म की पीड़िता बच्ची के मामले में चाइल्ड वेलफेयर कमेटी ने बड़ा खुलासा किया है। कमेटी के मुताबिक बच्ची की उम्र 14 नहीं, बल्कि आज की तारीख में 12 साल 8 महीने की है। कमेटी के अनुसार दुष्कर्म मामले के बाद गुपचुप तरीके से पीड़िता को गर्भपात के लिए यूपी ले जने की तैयारी थी। मगर चाइल्ड लाइन कमेटी को इसकी भनक लग गई। इसके बाद पुलिस में मामला दर्ज करवाया गया।

vishal-garments

   हालांकि पुलिस इस मामले में एक आरोपी को पहले ही गिरफतार कर चुकी है। लेकिन डीएनए रिपोर्ट ही तय करेगी कि बच्ची के साथ दरिंदगी करने वाला आरोपी सही मायने में कौन है। चाइल्ड वेलफेयर कमेटी की चेयरपर्सन विजयश्री गौतम ने जारी एक बयान में बताया कि मेडिकल काॅलेज नाहन में पीड़िता का गर्भपात कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि चाइल्ड लाइन को 30 अगस्त को सूचना मिली थी कि 19 साल की बच्ची के पेट में 6 महीने का बच्चा है। गर्भ गिराने के लिए दवाइयों का भी इस्तेमाल किया गया, परंतु उसका कोई असर नहीं हुआ।

    विजयाश्री के अनुसार इसके बाद 4 सितंबर को मामला पुलिस थाना श्री रेणुका जी में दर्ज करवाया गया, जिसमें बच्ची की उम्र 19 साल दर्शाई गई थी। चाइल्ड लाइन की टीम ने जन्म प्रमाण पत्र संबंधित पंचायत से प्राप्त किया, जिसके अनुसार बच्ची की उम्र 12 साल 8 महीने है। विजयश्री के अनुसार समिति की तरफ से बच्ची को भरोसा दिलाया गया है कि अगर वह चाहे तो उसे चाइल्ड केयर इंस्टीच्यूट में रहना दिया जा सकता है, जब तक वह चाहे, जहां उसकी उचित देखभाल व पढ़ाई-लिखाई हो सके।

Facebook Comments

Related posts