गुड न्यूज : स्वच्छता के बाद अब कुल्लू जिला ने इस काम में भी मारी बाजी, बना हिमाचल का ‘सिरमौर’

न्यूजघाट टीम। कुल्लू
आधार जन्म पंजीकरण में प्रदेश भर में प्रथम स्थान हासिल करने वाले कुल्लू जिला के निजी अस्पतालों में भी अब बच्चों को जन्म के साथ ही आधार लिंक्ड जन्म प्रमाण पत्र जारी किए जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग इन निजी अस्पतालों के कर्मचारियों को प्रशिक्षित करेगा तथा उन्हें तकनीकी सहायता प्रदान करेगा, जबकि आधार नंबर पंजीकरण के लिए निजी अस्पतालों को टैब अपने स्तर पर ही खरीदने पड़ेंगे। .

vishal-garments

    यूजर का नाम और पासवर्ड भी स्वास्थ्य विभाग जारी करेगा। बुधवार को क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू के सम्मेलन कक्ष में निजी अस्पतालों के कर्मचारियों के लिए आयोजित एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा. विक्रम कटोच ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिला के सरकारी अस्पतालों में पहले ही बच्चों को जन्म के साथ ही आधार लिंक्ड जन्म प्रमाण पत्र जारी किए जा रहे हैं। अब निजी अस्पतालों में भी इसे अनिवार्य किया जा रहा है। अगर कोई निजी अस्पताल यह सुविधा शुरू नहीं करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि आधार लिंक्ड जन्म पंजीकरण और जन्म प्रमाण पत्र से जहां नवजात बच्चों के अभिभावकों को सुविधा होगी, वहीं इसके माध्यम से कई सरकारी योजनाओं का कार्यान्वयन काफी आसान हो जाएगा। बच्चों के टीकाकरण कार्यक्रमों, शिक्षा का अधिकार और बाल विकास की कई महत्वपूर्ण योजनाओं को प्रभावी ढंग से लागू करने में आधार लिंक्ड जन्म प्रमाण पत्र बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होगा।

    इस मौके पर स्वास्थ्य विभाग के अश्वनी कुमार और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के राजकुमार ने निजी अस्पतालों के कर्मचारियों को आधार लिंक्ड जन्म पंजीकरण और प्रमाण पत्र के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के बाद प्रतिभागियों का आॅनलाइन टैस्ट भी लिया जाएगा।

Facebook Comments

Related posts