hids

पर्यटन नगरी मनाली तक पहुंची कोटरोपी हादसे की आंच, एक साथ बुझे 2 घरों के चिराग

न्यूजघाट टीम। मनाली। मंडी
मंडी के कोटरोपी में देर रात मचे मौत के तांडल की आंच पर्यटन नगरी मनाली तक पहुंची है। जिला कुल्लू के तहत पर्यटन नगरी मनाली के 2 युवा भी इस दर्दनाक हादसे का शिकार हो गए। यूं तो मंडी हादसे ने पूरी देवभूमि को हिलाकर रख दिया है। मगर इस हादसे से मनाली भी सहम उठी है, चूंकि यहां के दो युवक भी इस घटना के शिकार हुए है। यह दोनों युवा काॅलेज में शिक्षा ग्रहण करने गए थे। सुबह उठते ही लोगों को सोशल मीडिया द्वारा इस दुर्घटना की जानकारी मिली। जानकारी मिलते ही लोग अपनों की तलाश में जुट गए।

vishal-garments

    मंडी हादसे का समाचार सुनकर मनाली के इन युवाओं के घरवालों ने अपने बच्चों के साथ संपर्क किया तो पतलीकूहल और जाणा में हड़कंप मच गया। धर्मशाला में एम.कॉम कर रहे जाणा के खूब राम और हाल ही में हरिपुर कालेज से शिक्षा ग्रहण करने के बाद धर्मशाला कालेज में दाखिला लेकर लौट रहे चिचोगा गांव के पंकज व पतलीकुहल बाड़ी गांव के पवन कुमार के घर वाले तब परेशान हो उठे, जब उनके बेटों का फोन तो लग रहा था। मगर कोई उठा नहीं रहा था। धर्मशाला संपर्क करने पर उन्हें जब पता चला कि वे रात्रि बस सेवा से मनाली के लिए रवाना हुए हैं, तो घर वालों की धड़कने और तेज हो गईं और वे आनन-फानन में घटनास्थल की ओर रवाना हो गए। घर वाले अभी रास्ते में ही थे कि उन्हें अपने जिगर के टुकड़ों का इस दुनिया में न रहने का समाचार मिल गया।

    समाचार मिलते ही चिचोगा गांव, जाणा और पतलीकूहल बाड़ी गांव केमाहौल गमगीन हो गया। मृतक युवक पवन के रिश्तेदार एवं पूर्व प्रधान राजीव ठाकुर ने कहा कि वे सुबह से ही पवन को फोन कर रहे थे। मगर वह फोन नहीं उठा रहा था। उधर, मृतक खूब राम के परिजन एवं उपप्रधान रोशन लाल ने बताया कि पूरा गांव शोकाकुल हो उठा है। अभी तीसरे युवक का कुछ पता नहीं चल सका है।

15-aug
Facebook Comments

Related posts