पर्यटन नगरी मनाली में पैसे मांगने के आरोप में फंसा फर्जी DGM, पढ़िए क्या है पूरा मामला

बीके शर्मा। कुल्लू। मनाली
ज़िला कुल्लू की पर्यटन नगरी मनाली में इंडियन आयल का एक फर्जी अधिकारी फंस गया। उक्त फर्जी अधिकारी मनाली की एक गेस एजेंसी में घुस कर कर्मचारियों को धमका रहा था। जिस पर गैस एजेंसी के मॉलिक ने पुलिस को सूचित किया और पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए उसकी पहचान की। जिसमे वो फर्जी पाया गया। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार उक्त फर्जी डीजीएम मनाली में अवैध रूप से उगाही कर रहा था और कई अन्य डिमांड भी कर रहा था।

    उक्त डीजीएम जब मनाली में इंडियन ऑयल की गैस एजेंसी में पहुंचा तो वहां पर काफी सारी डिमांड रखी। जिसमें होटल में कमरा, रोहतांग व सोलंग नाला जाने के लिए गाड़ी के अलावा धन की भी मांग की। वहां गैस एजेंसी के मालिक दवेंद्र नेगी जब अपने गैस एजेंसी कार्यालय गए तो देखा कि कोई डीजीएम स्टाफ को धमका रहा है और कई डिमांड रख रहा है। नेगी ने जब इंडियन ऑयल से पता किया तो पता चला कि इस तरह का कोई डीजीएम मनाली नहीं आया है। नेगी ने तुरंत नकली डीजीएम को पकड़ा और पुलिस के हवाले किया।

     आरोपी की पहचान श्याम गोड पुत्र रामेश्वर दयाल सदानन्द कालोनी भण्डावर डोसा राज स्थान के रूप में फर्जी डीजीएम की पहचान हुई है। वही, बाद में दोनों पक्षो में समझौता हो गया। जिसके चलते कोई भी मामला दर्ज नही हो पाया।

Facebook Comments

Related posts