इस अस्पताल में नवजात बच्ची का शव मिलने से सनसनी, कर्मचारियों के उड़े होश

न्यूजघाट टीम। कांगड़ा
डा. राजेंद्र प्रसाद मैडीकल कालेज टांडा में सोमवार को उस समय खलबली मच गई, जब सफाई कर्मचारी ने कपड़े में लिपटे कुछ सामान को कूड़ा समझ खोलकर देखा तो उसमें एक नवजात बच्ची का शव लिपटा हुआ था। उसने इसकी सूचना अपने मैनेजर अमर सिंह को दी और अमर सिंह ने आगे इसकी जानकारी मैडीकल अधीक्षक को दी। मैडीकल अधीक्षक ने तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस चौकी में इसकी सूचना दी। मैनेजर अमर सिंह ने बताया कि जब उसने देखा कि एक बच्ची का शव है तो उन्होंने साफ रेहड़ी मंगवा कर शव उसमें रखवा दिया।

vishal-garments

     इतने में लोगों में इस बात को लेकर चर्चा शुरू हो गई कि यह बच्ची का शव आखिर कपड़े में लिपटा कहां से आया। कई प्रकार के प्रश्न लोगों के मन में आ रहे थे कि क्या नवजात बच्ची को किसी ने मारा तो नहीं होगा? इतने में बच्ची की नानी चंचला देवी निवासी गुगलाड़ा अपने मृत बच्चे को तलाश करती आई। उसने बताया कि उसकी बेटी निवासी हटसर के घर टांडा में मृत बच्ची पैदा हुई। उसने बताया कि बच्ची को कपड़े में लपेट कर उसने बाहर बरामदे में रखा, ताकि अपने गांव जाकर बच्ची को दफनाया जा सके। इतने में वह उठ कर अपनी बेटी को जिसे मृत बच्ची पैदा हुई थी उसे देखने अंदर चली गई और पीछे से सफाई कर्मचारी कपड़े से लिपटी बच्ची को कूड़ा समझ कर उठाकर ले गया। पुलिस भी मौके पर आ गई।

     मैडीकल अधीक्षक डा. युक्तिधर शर्मा ने बताया कि जांच में पाया गया है कि बच्चा मृत पैदा हुआ है। डी.एस.पी. कांगड़ा सुरेंद्र शर्मा ने बताया कि पुलिस ने जांच के बाद पाया कि बच्चा मृत था जोकि उसकी नानी के पास था। बच्ची की नानी ने बताया कि पहले उन्होंने इस बच्चे को अपने घर ले जाकर दफनाना चाहा था, परंतु अब बच्ची को टांडा में ही दफना दिया है।

Facebook Comments

Related posts