अब विधायक सुरेश कश्यप ने कांग्रेस के गढ़ में ही हिलाया पार्टी का कुनबा, ये BJP में शामिल

न्यूजघाट टीम। सराहां
पच्छाद कांग्रेस को उस समय बड़ा झटका लगा, जब कांग्रेस का गढ़ कहे जाने वाले सेनधार की मानगढ़ पंचायत के 15 परिवारों ने कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थाम लिया। ये सब भाजपा के जनसंपर्क अभियान के दौरान हुआ। भाजपा विधायक सुरेश कश्यप ने सभी को फूल माला पहनाकर भाजपा परिवार में उनका स्वागत किया। मानगढ़ पहुंचने पर विधायक का जोरदार स्वागत किया गया। विधायक ने स्थानीय कांग्रेसी नेता पर पच्छाद को विकास में मामले में पिछड़ापन के लिए जिम्मेवार ठहराते हुए कहा कि कांग्रेसी नेताओं ने केवल कुर्सी का स्वाद चखा। पच्छाद की जनता को विकास के नाम पर झूठे आश्वासनों ओर दिलासों के कुछ नहीं दिया।

     विधायक ने कहा कि जिस विस क्षेत्र का नेता 30 सालों तक मंत्री रहा हो, वहां बुनियादी चीजें ही नहीं हैं। पच्छाद में सड़कों की हालत बद से बत्तर है। स्वास्थ्य सुविधाओं के नाम पर केवल दिलासे ही हैं। डॉक्टरों की भारी कमी के कारण लोगों को छोटी छोटी बीमारियों के लिए भी नाहन या सोलन जाकर अपना इलाज करवाना पड़ रहा है। रोजगार के नाम पर पच्छाद में कोरी घोषणाएं हो रही हैं। शिक्षा के नाम पर स्कूल अपग्रेड किए गए। पर अध्यापक देना भूल गए। हालात ये है कि जिन स्कूलों में स्टाफ था, वहां से डेपुटेशन पर नए स्कूलों में अध्यापकों को भेज दिया गया। अब हालत यह है कि किसी भी स्कूल में पढ़ाई नहीं हो पा रही है, जिससे पच्छाद के बच्चों का भविष्य अंधकार की ओर जा रहा है। विधायक ने कहा कि पच्छाद की जनता आगामी विस चुनाव कांग्रेसी नेताओं को पच्छाद की जनता के साथ किए गए विश्वाशघातों का बदला लेगी व पच्छाद में एक बार फिर कमल खिलाएगी।

      विधायक ने सामुदायिक भवन सेर के लिए 2 लाख, सांझा प्रांगण शमलाह के लिए 50000, पक्का रास्ता बाड़ू के लिए 50000, नीतू बेंड मास्टर को अपनी ऐच्छिक निधि से उनकी बेंड पार्टी को 10000 देने की घोषणा की। इस दौरान भाजपा में शामिल होने वालों में काकू राम, काका राम, रति राम, मठका राम, रमेश, रमेश छामला, रूपराम, संतोष, मदन, मागु राम, जगेंद्र, पिंकू, कमते राम, नीटू बेंड मास्टर अपनी पूरी पार्टी के साथ भाजपा का दामन थामा।

Facebook Comments

Related posts