output_lYKRAR.gif

HRTC ने हासिल की यह बड़ी उपलब्धि, HRTC लिम्का बुक आॅफ रिकार्ड में दर्ज

न्यूजघाट टीम। कांगड़ा
हिमाचल पथ परिवहन निगम यानी एचआरटीसी ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है। एचआरटीसी ने देश भर की बस सेवाओं को पीछे छोड़ते हुए यह बड़ी उपलब्धि एशिया के उंचे क्षेत्रों में अपनी सेवाओं से हासिल की है। लिहाजा एचआरटसी का नाम लिम्का बुक आॅफ रिकार्ड में दर्ज किया है। देशभर में चल रही बस सेवाओं को कड़ी टक्कर देते हुए एचआरटीसी ने यह मुकाम पाया है। हालांकि, ये रिकॉर्ड वर्ष 2016 में रिकॉर्ड किया गया है, लेकिन आज भी हिमाचल पथ परिवहन निगम की ये बसें उन ऊंचाइयों को छूती है, जिसे लेकर लिम्का बुक ने एचआरटीसी का नाम दर्ज किया है।

vishal-garments

      लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड के अनुसार हिमाचल पथ परिवहन निगम एशिया के सबसे ऊंचे इलाके किब्बर को मोटरेबल एरिया से जोड़ती है। काजा से लेकर किब्बर तक 25 किलोमीटर का सफर एचआरटीसी केवल 90 मिनटों में तय करती है। लाहौल स्पीति वैली में स्थित इस गांव की ऊंचाई 4270 मीटर है। इसके साथ ही लिम्का बुक रिकॉर्ड का कहना है कि एचआरटीसी सेवा एकमात्र ऐसी बस सेवा है, जो कि दिल्ली से लेह तक 1250 किलोमीटर का सबसे लंबा सफर ऊंचे पहाड़ी इलाकों के बीचों बीच तय करती है। इन ऊपरी इलाकों में रोहतांग-लाए, बारलाचा-ला और तंगलालंग-ला जैसे हाई एरिया आते हैं।

output_cvUt6r.gif
Facebook Comments

Related posts