hids

DC कुल्लू की मौजूदगी में रोगी कल्याण समिति के लिए इतने करोड़ का बजट पास

न्यूजघाट टीम। कुल्लू
उपायुक्त कुल्लू यूनुस ने बताया कि क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू में चिकित्सा सेवाओं के विस्तार एवं सुदृढ़ीकरण के लिए इस वित्त वर्ष में करीब तीन करोड़ रुपये के अनुमानित बजट की रूपरेखा तैयार की गई है। क्षेत्रीय अस्पताल के सम्मेलन कक्ष में रोगी कल्याण समिति की कार्यकारिणी की बैठक की अध्यक्षता करते हुए यूनुस ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि गर्भवती महिलाओं की सुविधा के लिए अस्पताल के बाहर भी रहने के लिए आवास उपलब्ध करवाने के हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। उपायुक्त ने कहा कि अस्पताल में मेडिसिन से संबंधित विषयों का एक पुस्तकालय भी स्थापित किया जाएगा, जिसके लिए एक लाख रुपये का प्रावधान किया गया है।

    उपायुक्त ने स्वास्थ्य अधिकारियों को अस्पताल के दवा भंडार में जन औषधि केंद्र की दवाईयां पर्याप्त मात्रा में रखने के निर्देश, ताकि गरीब मरीजों को सस्ती दवाईयां उपलब्ध हो सके। उपायुक्त ने कहा कि अस्पताल के आपरेशन थिएटर के साथ वार्ड की मरम्मत व रखरखाव के लिए लगभग साढे 24 लाख की धनराशि खर्च करने का लक्ष्य रखा गया है। उपायुक्त ने बताया कि गरीब, असहाय व बेसहारा मरीजों के इलाज और उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए भी उचित धनराशि का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि अस्पताल की आपातकालीन सेवा में रिक्त पड़े पदों को प्राथमिकता के आधार पर भरा जाएगा। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को 15 दिनों के भीतर इन पदों को आउटसोर्स आधार पर भरने के निर्देश दिए।

      इस अवसर पर सीएमओ डा. सुशील चंद्र शर्मा ने उपायुक्त का स्वागत करते हुए बताया कि जिला कुल्लू में मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत लगभग 19 हजार लोगों को लाभान्वित किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त क्षेत्रीय अस्पताल में बीपीएल कार्ड धारकों को डायलिसिस और कीमोथैरेपी जैसी आधुनिक चिकित्सा सुविधाएं निशुल्क दी जा रही हैं। बैठक में क्षेत्रीय अस्पताल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डा. केएस मल्होत्रा ने रोगी कल्याण समिति के तहत किए जा रहे कार्यों की विस्तृत जानकारी दी। इस मौके पर डीआरडीए के परियोजना अधिकारी जीसी बैंस, जिला आयुर्वेद अधिकारी डा. योगराज शर्मा और समिति के अन्य सरकारी व गैर सरकारी सदस्य भी उपस्थित थे।

15-aug

जिला आयुर्वेदिक अस्पताल की रोगी कल्याण समिति की बैठक
उपायुक्त यूनुस ने जिला आयुर्वेदिक अस्पताल की रोगी कल्याण समिति की बैठक की भी अध्यक्षता की। इस बैठक में भी अस्पताल से जुड़े विभिन्न मुददों पर व्यापक चर्चा की गई। उपायुक्त ने कहा कि आज के दौर में पारंपरिक आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति का महत्व भी बढ़ता जा रहा है। उन्होंने आयुर्वेद अधिकारियों को जिला आयुर्वेदिक अस्पताल में सभी व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के निर्देश दिए। बैठक में जिला आयुर्वेद अधिकारी डा. योगराज शर्मा ने रोगी कल्याण समिति से संबंधित विभिन्न मुददों का विस्तृत ब्यौरा पेश किया। इस मौके पर आयुर्वेदिक अस्पताल की बाल रोग विशेषज्ञ डा. मनुबाला गौतम, अन्य अधिकारी, समिति के सरकारी व गैर सरकारी सदस्य भी उपस्थित थे।

vishal-garments
Facebook Comments

Related posts