रोहतांग के बजाये अनछुये पर्यटन स्थलों को रोपवे से जोडे़ सरकार

न्यूजघाट टीम। मनाली
हिमांचल टेक्सी ऑपरेटर यूनियन के अध्यक्ष राज कुमार डोगरा ने कहा कि रोहतांग दर्रा सड़क से जुड़ा हुआ है। इसलिए इसे रोपवे से जोड़ना उचित नहीं। रोहतांग की तरह मनाली के दर्जनों खूबसूरत पर्यटन स्थल विकसित होने की राह देख रहे है। प्रदेश सरकार अगर इन पर्यटन स्थलों को विकसित करती है तो न केवल मनाली को नए पर्यटन स्थल मिल जाएंगे, बल्कि रोहतांग दर्रे से सैलानियो का बोझ भी कम हो जाएगा।


      उन्होंने कहा कि एनजीटी के आदेशांे का टेक्सी यूनियन भी स्वागत करती है, लेकिन साथ ही सरकार से आग्रह करती है कि मनाली के हजारों परिवारो की रोजी रोटी को ध्यान में रखते हुए रोहतांग के बजाय दूसरे पर्यटन स्थलांे को रोपवे से जोड़े। डोगरा ने कहा कि मनाली में भृग, लामा डुग, चंद्रखनी, हमटा जोत जैसे पर्यटन स्थल विकसित किए जा सकते है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार टैक्सी ऑपरेटरों के पीछे हाथ धो कर पड़ी है। इससे पहले भी सरकार मनाली के टैक्सी ऑपरेटरों की रोजी रोटी को बे बजह प्रभावित करती रही है।

singh-medicose-paonta

      उन्होंने कहा कि रोहतांग दर्रे से बीस हजार लोग प्रत्यक्ष और अप्रत्क्ष रूप से जुड़े हुए है। अगर रोहतांग को रोपवे से जोड़ा जाता है तो हजारांे लोगो की रोजी रोटी प्रभवित हो जाएगी। इस अवसर पर यूनियन के उपाध्यक्ष किरण ठाकुर, महासचिव अभिनव ठाकुर, सहसचिव जय चंद ठाकुर व कोषाध्यक्ष घनश्याम उपस्थित रहे।


negi
Facebook Comments

Related posts