शिलाई : पुलिस की वर्दी से डर लगता हैं साहब, बोला पुलिस की मारपीट का शिकार सोनू

न्यूजघाट टीम। नाहन। शिलाई
दुर्गम क्षेत्र शिलाई में पुलिस की दबंगई का मामला सामने आया है। करीब आधा दर्जन पुलिस जवानों पर एक युवक की बेरहमी से पिटाई का आरोप लगा है। पीड़ित युवक नाहन मेडिकल काॅलेज एवं अस्पताल में उपचाराधीन है। शिलाई पुलिस की मारपीट से सहमे नाहन अस्पताल में उपचाराधीन युवक सोनू ने कहा कि पुलिस की वर्दी से डर लगता हैं साहब।

       पुलिस की कथित धुनाई का शिकार हुआ युवक सोनू अभी भी ठीक से अपने पैरों पर नहीं चल पा रहा है। नाहन से पहले सोनू का पांवटा साहिब अस्पताल में उपचार चल रहा था, जहां से उसे नाहन मेडीकल कॉलेज रैफर किया गया। इसी मामले में आज एसपी सौम्या सांबशिवन ने नाहन अस्पताल पहुंचकर खुद पीड़ित व्यक्ति से पूछताछ की। इस गंभीर मामले की जांच का जिम्मा डीएसपी हैडक्वार्टर को सौंपा गया है।

negi
chauhan

     दरसल शिलाई क्षेत्र में हुई एक चोरी के मामले में पुलिस सोनू को प्रत्यक्ष दर्शी मान रही है। पुलिस पूछताछ करने के बहाने सोनू को शिलाई थाने ले गई और सोनू की जमकर धुनाई की। हैरानी इस बात की है कि कोर्ट से रिमांड की इजाजत लिए बिना पुलिस ने कैसे 2 दिन हवालात में रख पिटाई कर दी। वहीं सोनू का कहना है कि उसे चोरी की घटना के बारे में कुछ भी मालूम नहीं है। सोनू की कहानी बेहद दर्दनाक है। जिस समय पुलिस ने सोनू को उठाया, उस समय वो अपने बीबी बच्चों के लिए आटा लेsonuने टिंबी पहुंचा हुआ था।

     सोनू के घर में उसकी बीबी और 2 बच्चे है और एक बच्चे ने करीब 10 पहले ही जन्म लिया है। घर में खुशियां मनाने की बजाए सोनू अस्पताल में दर्द से कहरा रहा है। सोनू के शरीर पर मार पिटाई के निशान साफ दिखा रहे कि किस तरह पुलिस कर्मियों ने सोनू की पिटाई की है। कुल मिलाकर शिलाई में पुलिस बर्बरता का जो चेहरा सामने आया है, वह सचमुच हैरान करने वाला है। खुद को लोगों का रक्षक बताने वाली पुलिस किस कद्र सचाई जाने बगैर कहर निर्दोष लोगों पर बरपाती है। इसका यह जीता-जागता सबूत है। देखना होगा कि दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ विभाग क्या कार्रवाई करता है।

      उधर इस मामले में पूछे जाने पर एसपी सौम्या सांबशिवन ने कहा कि पीड़ित युवक से अस्पताल में मुलाकात की गई है। इस मामले की जांच का जिम्मा डीएसपी हैडक्वार्टर को सौंपा गया है।

Facebook Comments

Related posts