यहां उद्घाटन से पहले ही गंदगी-जुए का अड्डा बन गया किसान भवन!

नृपजीत निप्पी। धर्मशाला
प्रदेश के कृषि एवं ऊर्जा मंत्री सुजान सिंह पठानिया के विधानसभा क्षेत्र में सरकारी का जीता जागता उदाहरण सामने आया है। यहां का किसान भवन उद्घाटन से पहले जहां जर्जर हालत में पहुंच चुका हैं। वहीं गंदगी व जुए का अड्डा भी बन गया है। हम बात कर रहे हैं नूरपुर के तहत किसान भवन रेहन की। इस किसान भवन का शिलान्यास करीब 10 साल पहले भाजपा शासन में 14 दिसंबर 2002 को उस वक्त के मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने किया था।

negi

      शिलान्यास के बाद भवन बनकर तैयार हो गया। मगर वर्तमान में इस बात की हालत जर्जर हो चुकी है। बता दें कि यह क्षेत्र कृषि एवं ऊर्जा मंत्री सुजान सिंह पठानिया का है। मगर न तो मंत्री महोदय ने इस किसान भवन की सुध ली और न ही अन्य किसी ने। भवन के अंदर इतना बुरा हाल है कि जगह-जगह ताश के पत्ते ओर इतनी गंदगी पडी है कि मानों किसान भवन एक जुआ घर ओर गंदगी का ढेर बनकर रह गया हैं।

chauhan

       फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के युवा नेता व प्रदेश भाजपा युवा के प्रदेश सचिव पंकज हैप्पी ने इस किसान भवन के बारे में कहा कि भवन को बने सालों बीत जाने के बाद उद्घाटन को तरस रहा है। भवन की खिड़कियां टूट चुकी है। उन्होंने कहा कि यदि मंत्री महोदय पठानिया इस भवन को लेकर उचित कदम नहीं उठा सकते, तो कम से कम इस भवन को पंचायत के सुपुर्द कर दें, ताकि इसका सही इस्तेमाल हो सके। उन्होंने मंत्री से आग्रह करते हुए कहा कि इस किसान भवन की दुर्दशा को दूर करें।

       दूसरी तरफ स्थानीय निवासी एवं समाजसेवी प्रेम कुमार का कहना है कि सभी राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे को नीचा दिखाने की वजह से काम नहीं करती हें। अगर एक पार्टी ने काम किया, तो दूसरी पार्टी इसका विरोध करती है। यह किसान भवन भारतीय जनता पार्टी के समय में बना था। परंतु कांग्रेस पार्टी इसको नजरअंदाज कर रही है।

Facebook Comments

Related posts