पांवटा साहिब: डिस्ट्रीक बाल विज्ञान मेले में छाया गुरू नानक मिशन पब्लिक स्कूल

न्यूजघाट टीम। पांवटा साहिब
राजकीय वरिष्ठ कन्या माध्यमिक पाठशाला में जिला स्तरीय बाल विज्ञान कांग्रेस का समापन पांवटा दून के विधायक चौधरी किरनेश जंग ने किया। तीन दिनों तक लगातार चलने वाली इस जिला स्तरीय बाल विज्ञान कांग्रेस में पांच उपमंडल के विद्यालयों ने भाग लिया।

      कन्या स्कूल की छात्राओं ने कार्यक्रम के शुरू में वंदे मातरम् व स्वागत गीत पेश किए। इस कार्यक्रम में गेस्ट आॅफ आनर के रूप में सिरमौर ट्रक आॅपरेटर के प्रधान बलजीत सिंह नागरा मौजूद रहे। प्रधानाचार्य कन्या स्कूल के राजेश सोलंकी ने कहा कि विद्यालय इस तरह के आयोजन हर वर्ष करता है। जिससे स्कूली प्रतिभागियों को आगे बढने के सुअवसर प्रदान होते है। स्कूली छात्राओं ने वन संरक्षण को बचाने के मोर नी मारना गीत पेश कर सुंदर प्रस्तुति पेश की।

       सिरमौर ट्रक आॅपरेटर के प्रधान बलजीत सिंह नागरा ने इस कार्यक्रम के स्कूल को 5100 रूपए दिए और आगामी प्रतियोगिता करने के लिए 11000 रूपए देने की घोषणा की। जिला स्तरीय बाल विज्ञान कांग्रेस में गुरू नानक मिशन पब्लिक स्कूल पांवटा साहिब के मनप्रित सिंह ने प्रथम स्थान पर कब्जा किया। सीनियर सैकेंडरी क्वीज में प्रथम स्थान पर निकिता एवं अलका दून वैली स्कूल पांवटा रहा।

       सीनियर अरबन में वैशाली एवं शिवानी दून वैली स्कूल सीनियर रूलर में सौरव और आशिश देवमान स्कूल, जूनियर अरबन में तनुश्रीया और जया दून वैली स्कूल पांवटा, जूनियर रूलर में सर्वेश और सुदेश देवमानल स्कूल प्रथम रहा। वैज्ञानिक सर्वे रिर्पोट जूनियर रूलर में सोम्या ठाकुर एवीएन ददाहु स्कूल प्रथम रहा। वैज्ञानिक सर्वे रिर्पोट जूनियर अरबन में एवीएन नाहन की निकिता कश्यप प्रथम रही।

       वैज्ञानिक सर्वे रिर्पोट सीनियर रूलर में मोनिका भाटगढ़ स्कूल प्रथम रहा, वैज्ञानिक सर्वे रिर्पोट सीनियर अरबन में श्वेता एवीएन प्रथम रही। वहीं वैज्ञानिक सर्वे रिर्पोट सीनियर सकेंडरी में सतीश संगढ़ाह प्रथम रहा, स्कील काॅम्पीटिशन में एवीएन स्कूल नाहन प्रथम रहा। मैथमेटिक ओलोम्पियार्ड में सीनियर सकैंडरी में सुशील ठाकुर एवीएन नाहन, सीनियर में अनिरूद्व डीएवी नाहन, जूनियर वर्ग में साई सुमन मोहाराना डीएवी नाहन प्रथम रहा।

     हिमाचल प्रदेश विज्ञान संघ अजय शर्मा ने मुख्यतिथि का स्वागत किया और कहा कि स्कूली की छात्राएं मुख्यातिथि को सुनने के लिए काफी लम्बे असरे से आतुर थी। मुख्यातिथि ने अपने वक्तव्य में कहा कि इस तरह के आयोजन से बच्चों का आंतरिक विकास होता है। बच्चों को एपीजे अब्दुल कलाम जैसी महान विभुतियो से प्रेरित होना चाहिए। जिन्होनें विज्ञान क्षेत्र में अतुनलिय योगदान दिया। चौधरी ने स्कूल को 11000 रूपए की राशि नगद दी।

   इस दौरान गुरूद्वारा पांवटा साहिब प्रबंधक कुलवंत सिंह, हरदेव सिंह ठाकुर, मोहनलाल, मधुकर डोगरी, नंदलाल, एसएमसी प्रधान पवन शर्मा, रमेश शर्मा, अश्विनी शर्मा, ओ पी कटारिया, छात्र स्कूल तारूवाला प्रधानाचार्या कांता कोंडल, स्कूल एंड गाईड, एनएसएस कार्यकर्ता व स्कूल के बच्चो सहित सैकड़ो ने इस कार्यक्रम में भाग लिया।

negi
chauhan
Facebook Comments

Related posts