पांवटा साहिब काॅलेज में आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ का गठन, डा. अलका होंगी समन्वय

न्यूजघाट टीम। पांवटा साहिब
राजकीय महाविद्यालय पांवटा साहिब में आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ का गठन किया गया है। प्रकोष्ठ की समन्वयक डा. अलका चौहान नियुक्त की गई। प्रकोष्ठ की प्रथम बैठक आज काॅलेज प्रिंसिपल डा. किरण वीर सिंह की अध्यक्षता में हुई।

negi

       इस प्रकोष्ठ में बाह्य विशेषज्ञ के रूप में शिक्षाविद् एवं नागरिक समाज के प्रतिनिधि राजेंद्र मोहन रमौल, उद्योगों के प्रतिनिधि के तौर पर सतीश कुमार गोयल अध्यक्ष चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज, कॉलेज शिक्षक एवं अभिभावक संघ के अध्यक्ष शकुन महिंद्रा, कॉलेज एलुमनाई एसोसिएशन के अध्यक्ष विष्णु भारद्वाज, वर्तमान कॉलेज छात्र संघ की अध्यक्ष सोनाली, कॉलेज के शिक्षकों में डॉ. कुलदीप सिंह सेन, रितु पंत, नलिन रमौल व डॉ. जाहिद अली मलिक व कॉलेज कार्यालय अधीक्षक नरेश बतरा शामिल हैं।

      इस बैठक में महाविद्यालय के सर्वांगिण विकास से जुड़े विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई। साथ ही महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। इसमें प्रमुख रूप से सूचना का अधिकार अधिनियम के अंतर्गत प्रोएक्टिव डिस्क्लोजर के 17 मैनुअल्स व कॉलेज आपदा प्रबंधन योजना तैयार कर कॉलेज वेबसाइट पर अपलोड करने हेतु संबंधित समितियों को निर्देश दिए गए। कॉलेज पुस्तकालय में निर्धन छात्रों हेतु बुक बैंक की सुविधा आरंभ करने व छात्रों को स्वच्छ पानी उपलब्ध करवाने हेतु वाटर फिल्टर स्थापित करने का निर्णय लिया गया। सूचना प्रौद्योगिकी विभाग में 5 नए कंप्यूटर आवश्यक सॉफ्टवेयर के साथ खरीदने व 2 नए स्मार्ट क्लासरूम स्थापित करने का फैसला भी लिया गया।

chauhan

       प्रकोष्ठ के वरिष्ठ सदस्यों राजेंद्र मोहन रमौल एवं सतीश कुमार गोयल ने महाविद्यालय में वोकेशनल डिग्री शुरू करवाने हेतु इस मांग को सरकार के समक्ष प्रभावी ढंग से उठाने का आश्वाशन दिया। साथ ही स्थानीय मीडिया से इस संबंध में सहयोग की अपील की।

Facebook Comments

Related posts