…तो लवी मेले-दीवाली से पहले रामपुर, ब्रो व जगातखाना क्षेत्रों में सजने लगे जुए के अड्डे!

न्यूजघाट टीम। रामपुर बुशहर। कुल्लू
अंतरराष्ट्रीय लवी मेला और दीपावली से पहले रामपुर, ब्रो, जगातखाना व आसपास जुआरी तेजी से दस्तक देने लगे हैं। इस दौरान करोड़ों का दैनिक जुआ चलता है। हालात को देखते हुए पंचायतो ने भी प्रस्ताव पारित कर सरकार से इस पर नुकेल कसने की मांग उठाई है।

      हालांकि शिमला जिले के रामपुर व इसके आसपास के क्षेत्रों में पिछले कुछ वर्षो से पुलिस की सक्रियता से जुए के अड्डे कम हुए है। मगर सतलुज के उस पार कुल्लू जिले के ब्रो, जगातखाना और आसपास जुआ खूब फल फूल रहा है। स्थानीय पंचायतें और लोग कई बार जुए के कारण माहौल बिगड़ने की शिकायत पहले कर चुके है। लेकिन लोगांे का आरोप है कि इस धंधे में कुछ उंची राजनीतिक पहुंच वालों और पुलिस की मिलीभगत से हालात में सुधार नहीं हो रहा है। खास कर ब्रो की स्थिति दिन ब दिन बदतर होती जा रही है। शाम ढलते ही महिलाओं और बच्चांे का इस क्षेत्र में गुजरना मुश्किल हो जाता है।

      बताया जाता है कि पुलिस भी राजनीतिक दवाब के कारण ब्रो जगातखाना में ढील बरतती है और इस कारण धंधा बेलगाम हो जाता है। जुआरी भी ऐसे लोगों  के भवनों में जुआ खेलना सुरक्षित समझते है जो राजनीतिक पहंुच वाला या फिर पुलिस से सांठ गांठ रखता हो, ताकि रेड कब लगेगी सूचना मिल सके। इसलिए ऐसे लोगों के भवनों में प्रति कमरा मासिक किराया जुआ खेलने के लिए एक लाख से अधिक रहता है।

chauhan

       सूत्र बताते है कि कमरों में यह अवैध कारोबार जुआरियों ने शुरू कर दिया है और एक लाख पच्ची हजार तक का प्रति कमरा किराया तय हुआ है। बाकायदा ब्रो और जगातखाना में कुछ भवन मालिक किरायेदार से यह शर्त रखते है कि लवी और दिवाली के दौरान कमरे खाली करने होंगे, ताकि कमरे जुआरियों को एक माह के लिए देकर मोटी कमाई की जा सके। बीते वर्ष भी सतलुज उस पार ब्रो के थाना प्रभारी को लवी मेले के बाद घर जाते हुए सीआईडी की टीम ने लाखों रूपये नकद राशि के साथ पकड़ा था। इससे स्पष्ट हो गया था कि जुए का धंधा कितना फल फूल रहा है।

      कुल्लू जिले के तुन्न और पोषणा पंचायत जिसके अंतर्गत ब्रो और जगातखाना क्षेत्र आता है, ने जुआ पर ब्रेक लगाने के लिए पहल की है। तुन्न पंचायत के उपप्रधान रणजीत ठाकुर ने बताया कि ग्राम सभा ने प्रस्ताव पास कर जुए के अड्डों को बिलकुल बंद करने की मांग की है, ताकि इलाके में शांति बनी रहे।

      उधर पोषणा पंचायत उपप्रधान सुरेश चंद ने बताया कि पंचायत के माध्यम से सरकार को भी इस बारे लिखा जाएगा। उन्होंने कहा कि जिला स्तर का पुलिस अधिकारी जब तक क्षेत्र में न हो जुए पर लगाम लगना मुश्किल है। उन्होंने कहा कुल्लू जिला मुख्यालय दूर है। इसलिए लवी मेले के दौरान जुआरियो की धर पकड़ के लिए आईपीएस पुलिस अधिकारी की अगुवाई में ही विशेष टीम का गठन हो, तभी जुए पर अंकुश संभव है। अन्यथा ब्रो का नाम बदनाम होने लगा है। जुआ खिलाने वाला माफिया सक्रिय हो रहा है।

negi
Facebook Comments
vishal-garments

Related posts