तो इस बार भी हिमाचल सरकार दीवाली पर बढ़ाएगी मिठास, 450 क्विंटल मिठाईयां करेगी तैयार

वीएस पाठक। शिमला
हर बार की तरह इस बार भी देवभूमि के लोगों को दीपों के त्यौहार दीपावली पर शुद्ध देसी घी की मिठाईयों का स्वाद चखने को मिलेगा। हिमाचल सरकार का उपक्रम मिल्कफेड हर बार की तरह इस बार भी विभिन्नत तरह की देसी घी में बनी स्वादिष्ट मिठाईयां तैयार करेगा। मिल्कफैड ने करीब 450 क्विंटल मिठाईयां तैयार करने का लक्ष्य रखा है। उधर मिल्कफेड पिछले सालों के अनुभवों व डिमांड को देखते हुए इस साल मिठाइयों की प्राथमिकता तय की है।

chauhan

बाजार भाव से सस्ती होंगी मिठाईयां
इन मिठाईयों की खास बात यह है कि जहां ये मिठाईयां शुद्ध देसी घी से तैयार होती हैं, तो उनका स्वाद भी बाजार में बिकने वाली मिठाईयों से बेहतर होता है। मिल्कफेड इन मिठाईयों को तैयार करने के लिए बाहर से कारीगरों की सेवाएं लेंगा। बड़ी बात यह है कि मिल्कफेड की यह मिठाईयां देसी घी में बनी होने के बावजूद बाजार भाव से सस्ती होंगी।

negi

दुकानदारों के लिए भी व्यवस्था
मिल्कफेड द्वारा तैयार की जाने वाली मिठाईयों को यदि दुकानदार थोक के भाव खरीद कर आगे बेचना चाहते हैं, तो मिल्फेड से इसके लिए भी व्यवस्था की है।

पिछले साल हाथों हाथ बिक गई थी मिठाईयां
जानकारी के मुताबिक मिल्कफेड ने पिछले साल दीवाली पर भी 300 क्विंटल देसी घी की मिठाईयां तैयार की थी। स्वादिष्ट व शुद्ध देसी घी में तैयार की गई ये मिठाईयां पिछले साल हाथों हाथ बिक गई थी। बहुत से लोगों को मायूस भी लौटना पड़ा था। मगर इस मर्तबा मिल्फेड ने मिठाईयों की मात्रा को बढ़ाई है। इस मर्तबा 450 क्विंटल मिठाईयां तैयार की जा रही है।

देवभूमि में हरेक जगह होंगे स्टाॅल
डिमांड का आकलन करते हुए मिल्कफेड ने इस बार पिछले साल के मुकाबले 150 क्विंटल अधिक मिठाइयां बनाने का फैसला लिया है। मिल्कफेड इन मिठाइयों को बेचने के लिए प्रदेश भर में स्टॉल लगाएगा।

राजधानी में यहां होंगे स्टाॅल
राजधानी शिमला में सैलानियों की संख्या अधिक होती है। ऐसे शिमला में मिल्कफेड के प्लांट टूटू सहित राज्य सचिवालय और मालरोड में मिल्कफेड स्टॉल लगाकर मिठाईयां बेची जाएगी।

ये होंगी दीवाली पर मिठाईयां
मिल्कफेड इस बार 80 क्विंटल पंजीरी तैयार करेगा। इसके अलावा 50 क्विंटल बर्फी बनाई जाएगी। ये बीकानेरी बर्फी होगी। साथ ही 45 क्विंटल डोडा बर्फी और कोकोनट बर्फी भी तैयार होगी। मिल्कफेड ने 35 क्विंटल मिल्ककेक, 50 क्विंटल सोन पापड़ी, 50 क्विंटल मोतीचूर के लड्डू और करीब 25 क्विंटल काजू बर्फी बनाने का फैसला लिया है। अन्य मिठाइयों में अंगूरी पेठा, रसगुल्ला, गुलाब जामुन भी शामिल होंगे।

Facebook Comments

Related posts