गेयटी थिएटर में सुविख्यात शास्त्रीय संगीत गायिका पद्मश्री शुभा मुद्गल ने बांधा समा

न्यूजघाट टीम। शिमला
ऐतिहासिक गेयटी थिएटर में 5 दिवसीय शिमला शास्त्रीय संगीत उत्सव का शानदार आगाज हुआ। कार्यक्रम के पहले दिन सुविख्यात शास्त्रीय संगीत गायिका पद्मश्री शुभा मुदगल ने अपनी संगीत साधना से श्रोताओं को रस विभोर किया।

     शुभा मुदगल ने संगीतमय संध्या की शुरूआत संधी प्रकाश राग से की। जिसमें दो संध्या के मिलन कर शास्त्रीय संगीत में खूबसूरती से पेश किया। इसके अलावा याल और ठुमरी दादरा में पारंगत शुभा मुदगल ने इन सभी विशेष विधाओं की प्रस्तुती दी। वहीं अपने भजनों की प्रस्तुति से उन्होंने कार्यक्रम को एक अलग ही भक्तिमय माहौल में बदल दिया।

     समारोह का उद्घाटन सिंचाई एवं जन स्वास्थय मंत्री विद्या स्टोक्स ने दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर उन्होंने आमंत्रित कलाकारों का हिमाचली परंपरा के अनुसार शॉल टोपी से स्वागत एवं सम्मान किया। उन्होंने कहा कि भारतवर्ष में आदि काल से ही संगीत की समृद्ध परंपरा रही है, जो आज तक चली आ रही है। इसका सबसे बडा कारण है कि यहां की गुरू-शिष्य पर परंपरा।

chauhan

     इस अवसर पर भाषा एवं संस्कृति विभाग निदेशक शशि ठाकुर, शहर के गणमान्य व्यक्तियों के अलावा भारी संख्या में शास्त्रीय संगीत प्रेमी उपस्थित थे। समारोह के दूसरे दिन पंडित शुभंकर बैनर्जी एवं पंडित योगेश समसी तबला वादन की जुगलबंदी प्रस्तुत करेंगे।

negi
Facebook Comments

Related posts