अंतरराष्ट्रीय मेला श्री रेणुका जी में लगेंगे बायो टाॅयलेट

अंजलि त्यागी। नाहन
जिला सिरमौर की आन व आस्था का प्रतीक रेणुका मेले को लेकर जहां तैयारियां जोरों पर है। वहीं मेले में देश भर से पहंुच रहे श्रद्धालुओं की सुविधा को लेकर प्रशासन व्यवस्था को चाक चैबंद करने में लगा है। इसमें हाल ही में निर्णय लिया गया है कि मेले के दौरान व स्थाई तौर पर यहां दो मोबाइल टॉयलेट व दो जैविक टॉयलेट का निर्माण किया जाएगा।

      आधुनिक तकनीकों से लैस जैविक शौचालय का निर्माण जल्द से जल्द किए जाने के लिए सीपीएस एवं रेणुका विधायक विनय कुमार द्वारा निर्देश दिए जा चुके है। गौर हो कि पहाड़ी परिवेश के चलते यहां लोगो को सार्वजनिक शौचालय की सुविधा नहीं दी जा सकी। इसके चलते ये एक गंभीर समस्या बनी हुई है। जहां मेले में पहुंचने वाले बाहरी लोगों के लिए मोबाइल टॉयलेट बेहतर विकल्प बना है। वहीं स्थानीय लोगों के लिए जैविक शौचालय की सुविधा दिए जाने को लेकर कवायद चल रही है।

         करीब 6 लाख रूपए की लागत से मेले में चार मोबाइल टॉयलेट मगंवाए गए है, जिनमें से दो को जैविक शौचालय के रूप में विकसित किया जाएगा। इस धार्मिक स्थल पर आए दिन लोगों के आने-जाने का सिलसिला बना रहता है। शौचालय का न होना यहां पर आने-जाने वाले यात्रियों व व्यापारियों के लिए बड़ी समस्या थी।

अब गंदे व बदबूदार टॉयलेट से लोगों को मिलेगी निजात
जैविक शौचालय आधुनिक तकनीक से संपन्न शौचालय है, जो कम जगह पर कम लागत पर व कम समय में स्थापित किए जा सकते हैं। इन शौचालयों में सोलर लाइटें भी लगी होती हैं। इसमें विशेष केमिकल डाला जाता है, जिससे सूक्ष्म कीटाणु सक्रिय होकर मानव मल को सड़ाने में मदद करते हैं। इस प्रक्रिया के तहत मल सड़ने के बाद नाइट्रोजन गैस व पानी ही शेष बचता है। इसकी विशेषता यह भी है कि इसकी टंकी को निकालकर खाली करके दोबारा स्थापित किया जा सकता है। जिन शहरों में शौचालय बनाने के लिए जगह की कमी है, वहां जैविक शौचालय उन जगहों पर स्थापित किया जा सकता है। रेणुका विधायक के इस फैसले की स्थानीय जनता द्वारा सराहना की जा रही है।

negi
chauhan
Facebook Comments
vishal-garments

Related posts