DIWALI-SHOPPING-DHAMAKA.jpg

बाॅलीवुड फिल्म ”उड़ता पंजाब” के डायरेक्टर-प्रोडयूसर को कानूनी नोटिस !

न्यूजघाट टीम। बद्दी
हिमाचल ड्रग मैन्यूफैक्चरिंग एसोसिएशन (एचडीएमए) बालीवुड फिल्म उड़ता पंजाब में देवभूमि हिमाचल प्रदेश के साथ-साथ एशिया के सबसे बड़े औद्योगिक क्षेत्र हब बद्दी-बरोटीवाला को नशे का गढ़ दिखाकर फार्मा हब की छवि खराब करने के मामले में फिल्म के डायरेक्टर व प्रोडयूसर को कानूनी नोटिस भेजेगी। इस कानूनी नोटिस को भेजने के लिए एसोसिएशन ने तैयार कर ली है।

     एसोसिएशन का कहना है कि फिल्म में बरोटीवाला में एक बंद पडे़ उद्योग को नशे की फैक्टरी दिखाया गया है, जोकि सरासर गलत है। आखिरकार फिल्म निर्माताओं ने किस आधार पर यह दिखाया कि यहां पर बंद पडे उद्योगों में ड्रग व नशीली दवाईयों का निर्माण किया जाता है। एसोसिएशन के नवनियुक्त अध्यक्ष एमबी गोयल व महामंत्री राहुल बंसल ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि एशिया के नंबर वन फार्मा हब की छवि को फिल्म के माध्यम से धूमिल किया गया है। उन्होंने कहा कि इस फार्मा हब को फार्मा उद्यमियों ने प्रदेश सरकार के प्रयासों से कडी मेहनत व लगन से सींचाहै।

     एसोसिएशन ने प्रदेश सरकार की ओर से बीबीएनडीए को 100 करोड का बजट मुहैया करवाने पर प्रदेश सरकार का आभार जताया। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में जो शांतिपूर्वक माहौल है, वह देश के किसी अन्य राज्य में नहीं। यहां पर मित्रव्रत प्रशासन, ऑनलाईन क्लीरेंस, लैंड बैंक, 24 घंटे बिजली की आपूर्ति, मैनपावर की सुविधा के चलते जो सुविधाएं फार्मा उद्यमियों को यहां पर मिल रही हैं वह उन राज्यों में भी नहीं हैं, जहां पर विशेष पैकेज दिए गए हैं। एचडीएमए ने फार्मा उद्योगों के बीबीएन से पलायन की संभावनों पर भी लगाम लगाते हुए कहा कि यहां पर स्थापित फार्मा उद्योग यहीं रहकर इस फार्मा हब को आगे ले जाएंगे।

vishal-garments
Facebook Comments

Related posts