DIWALI-SHOPPING-DHAMAKA.jpg

मेडिकल आफिसर एसोसिएशन का ऐलान, 15 दिन में कार्रवाई तो नहीं करेंगे विरोध

निलंबित डाक्टर की बहाली की रखी मांग, राज्य स्तरीय बैठक आयोजित
न्यूजघाट टीम। हमीरपुर
हिमाचल प्रदेश मेडिकल आफिसर एसोसिएशन की आपातकालीन बैठक हमीरपुर में हुई। बैठक की अध्यक्षता एसोसिएशन के प्रदेश प्रधान डा. जीवानंद ने की। बैठक में डाक्टरों पर हो रहे हमलों की निंदा की गई। साथ ही संघ ने चिडगांव हादसे और रिवालसर सीएचसी की डाक्टर की टरमिनेशन का कड़ा संज्ञान लेते हुए संघ ने फैसला लिया बिना डाक्टर का पक्ष सुने एक तरफा कार्रवाई करना बिल्कुल अनुचित है। जल्द से जल्द उस डाक्टर की बहाली की जाए। अन्यथा पूरे प्रदेश के चिकित्सक हड़ताल पर चले जाएंगे। इसके लिए संघ ने सरकार को 15 दिन का समय दिया है।

       संघ ने सरकार के उस निर्णय का विरोध किया है, जिसमें अंधाधुंध मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं, जबकि पहले से चल रहे दो मेडिकल कॉलेज में डाक्टर नहीं हैं। नए कॉलेजों में प्रदेश के बाहर के डाक्टरों की भर्ती की जा रही है, जो हिमाचली डाक्टरों के साथ सरासर न इंसाफी है। सरकार के उस निर्णय का विरोध किया है, जिसमें गैर एमबीबीएस लोगों को भर्ती किया जा रहा है और उन्हें एमबीबीएस की जगह लगाया जा रहा है। विभाग ने रेगुलर डीपीसी नहीं हो रही, इसकी वजह से बीएमओ की पोस्ट खाली चल रही है। संघ ने रोष प्रकट किया है कि मुख्यमंत्री ने संघ की सारी मांगे एक साल पहले मानने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की।

vishal-garments

      बैठक में प्रदेश महासचिव डा. पुष्पेंद्र वर्मा, मुख्य सलाहकार डा. संतलाल, डा. ओमपाल, उपप्रधान डा. अनुपम, डा. राजेश राणा, संयुक्त सचिव डा. दुष्यंत ठाकुर, ऊना के डा. राहुल कतना, कांगड़ा से डा. गुरदर्शन गुप्ता, प्रदेश प्रेस सचिव डा. सुशील शर्मा, मंडी से डा. जितेंद्र और डा. विकास, कुल्लू से डा. कल्याण और प्रदेश कोषाध्यक्ष डा. प्रवीण मौजूद रहे।

Facebook Comments

Related posts