output_lYKRAR.gif

हिमाचल को एचआईवी मुक्त बनाने के ठोस प्रयास, बोले स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह

न्यूजघाट टीम। शिमला
राज्य सरकार हिमाचल को एचआईवी एड्स मुक्त बनाने की दिशा में ठोस प्रयास कर रही है, जिसके फलस्वरूप राज्य में इन रोगियों की दर घटकर 0.12 प्रतिशत रह गई है। जबकि राष्ट्रीय औसत 0.22 प्रतिशत है। यह बात स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री कौल सिंह ठाकुर ने आज यहां राज्य एड्स नियंत्रण समिति द्वारा स्वयं सेवी संस्था ममता के सहयोग से एचआईवी समुदाय को मुख्यधारा से जोड़ने के संबंध में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए कही।

vishal-garments

     ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार लोगों को घरद्धार के समीप स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए कृतसंकल्प है और पिछले साढ़े तीन वर्षों के दौरान राज्य के दूरवर्ती क्षेत्रों में 135 से अधिक नए स्वास्थ्य संस्थान खोले अथवा स्तरोन्नत करने के साथ-साथ चिकित्सकों के 600 से अधिक पद भरे गए हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में एचआईवी एड्स का पहला मामला हमीरपुर जिला में सामने आया था और उसके उपरंात इन रोगियों की संख्या में निरंतर वृद्धि होती गई और आज प्रदेश में सक्रिय रूप से 3127 एचआईवी के रोगी हैं।

output_cvUt6r.gif

    उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने एड्स के मामलों की बढ़ती संख्या को देखते हुए राज्य एड्स नियंत्रण समिति का गठन किया और स्वयं सेवी संस्थाओं को इससे जोड़ा, ताकि इस भयावह रोग के बारे में समाज में जागरूकता उत्पन्न की जा सके और साथ ही इन रोगियों का उपचार किया जा सके।

Facebook Comments

Related posts