DIWALI-SHOPPING-DHAMAKA.jpg

शालू हत्याकांड: एसपी साहिबा कब सुलझेंगी बेटी की हत्या की गुत्थी

न्यूजघाट टीम। पांवटा साहिब
बहुचर्चित शालू हत्याकांड में पुलिस की अब तक की कार्रवाई से मृतका शालू के परिजन असंतुष्ट है। पांवटा साहिब के कोटगा की निवासी शालू के परिजनों ने मामले में बरती जा रही ढील पर अपनी नाराजगी जाहिर की है। परिजनों ने बताया कि पुलिस ने इस मामलें में अभी तक एक युवक की ही गिरफ्तारी की है। जबकि पुलिस ने परिजनों को आश्वासन दिया था कि 15 दिनों के भीतर सभी गुनाहगारों को पकड़ लिया जाएगा। मगर अब पुलिस प्रशासन गिरफ्तार किए एक आरोपी पर ही सारा ठिकरा फोड़ने जा रहा है। यही नहीं अभी तक लेब की रिपोर्ट भी नहीं आ पाई है।

      परिजनों ने बताया कि देखा जाए तो इस केस में पुलिस प्रशासन ने कोई ऐसा कार्य नहीं किया जो कि इस केस से जुड़ा है। परिजनों ने ही लड़की की लाश को ढूंढ़ा था और आरोपी के बारे में भी परिजनों ने ही बताया है। परिजनों ने बताया कि पुलिस प्रशासन ने परिजनों से झूठी वाही वाही लूटने के चक्कर में झूठी ब्यानबाजी करवाई कि वह पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट है। बीते दिनों मुख्यमंत्री के शिलाई दौरे के दौरान परिजन मुख्यमंत्री से प्रशासन की शिकायत करना चाहता थे और इस केस को सरकार के दूसरे संस्थान को देने की अपील करना चाहते थे, लेकिन वहां पर भी पुलिस की तारीफदारी करने एक महिला को आगे लाया गया, जिसने पुलिस की कार्रवाई पर संतोष जताया। जबकि वह महिला उनके गांव की भी नहीं थी।

     परिजनों ने बताया कि वह इस केस की कार्रवाई को सीआइडी व अन्य अन्य किसी एजेंसी से करवाना चाहते है। गौर हो कि लड़की 31 मई कीे लापता हुई थी। 5 जून को परिजनों ने लड़की की लाश को बाइला के जंगल से ढूंढ़ निकाला था और पुलिस को सौंपा था। 6 जून को लाश को पोस्टमाटम के लिए शिमला भेजा गया। 7 जून को परिजनों ने पांवटा में वाइ प्वाइंट पर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन कर चक्का जाम किया। उसके बाद कई दिनों तक सिरमौर जिले में कई जगह और शिमला में न्याय के लिए कैंडल मार्च निकाले गए। दो महीने से ज्यादा समय हो चुका है, लेकिन पुलिस ने अभी तक इस केस में दूसरी गिरफ्तारी नहीं की है। जिससे परिजन प्रशासन के खिलाफ असंतुष्ट है। परिजनों ने प्रशासन से जल्द अन्य दोषियों की गिरफ्तारी की मांग की है।

    हाल ही में मीडिया में छपी खबर पर एसपी सिरमौर ने कहा था कि लैब की रिपोर्ट के लिए रिमाइंडर भेजा है। मगर लड़की के परिजन इस बात से नाराज है कि प्रशासन ने किसी भी अन्य आरोपी के बारे में कोई भी बात नहीं की है। न ही किसी दूसरी गिरफ्तारी के बारे में बात कही गई है। इस बात से प्रशासन बच रहा है। परिजनों का कहना है कि यदि जल्द मामले में उचित कार्रवाई नहीं की गई तो मजबूरन उन्हें धरना प्रदर्शन करना पड़ेगा।

vishal-garments
Facebook Comments

Related posts