गौ भक्षक गिरफ्तार न हुए तो सड़को पर उतरेगी विहिप

विश्व हिन्दू परिषद व बजरंग दल जिला सिरमौर
पांवटा में विहिप-बजरंग दल की बैठक में लिया निर्णय

पांवटा साहिब। विश्व हिन्दू परिषद व बजरंग दल जिला सिरमौर के पदाधिकारियों की एक विशेष बैठक शुक्रवार को जिला सिरमौर कार्यालय पांवटा साहिब में हुई। बैठक में मुख्य रूप से जिला सिरमौर के नौहराधार, संगडाह के जमनाला के जंगलो में हिन्दुओ के आस्था के केंद्र चुड़ेश्वर महादेव मंदिर चूड़धार के रास्ते के जंगलो में गौ भक्षकों गुज्जरों एवं गौवंश तस्करी में लिप्त लोगो द्वारा गौवंश को काटा गया के बारे में चर्चा की गई। 30 मई 2016 को कुछ ग्रामीण हमारी आस्था के केंद्र चूड़ेश्वर महादेव मंदिर में इस जंगल के रास्ते से जा रहे थे। तब उन्होंने गुज्जरों के डेरे के पास गौवंश के कुछ अवशेष देखे। जिसकी सूचना उन्होंने पुलिस को भी दी। जब अगले दिन ग्रामीण एवं पुलिस चूड़धार के रास्ते वाले जंगलो में पहुची तो वहां से गुज्जर भाग चुके थे। खोजबीन करने पर वहां से गौवंश का सर, पूँछ एंव दो बोरियो में भरी हुई हड्डियां मिली। जिससे यह साफ़  साबित होता है की यह किसी जानवर का काम नहीं यह गौ भक्षकों की सोची समझी साजिश है। जिसे यह पिछले कई अरसे से अंजाम देते आ रहे है। जिसके लिए विश्व हिन्दू परिषद बजरंग दल ने पुलिस प्रसाशन को कई बार आगाह किया था। विश्व हिन्दू परिषद् पदाधिकारियो ने कहा की हिमाचल प्रदेश में गौ वध निषेध है। प्रदेश सरकार द्वारा ठोस कानून बनाया गया है। जिसका पालन करना पुलिस प्रसाशन का दायित्व है। विहिप बजरंग दल जिला सिरमौर के पदाधिकारियो ने जिला पुलिस को आगाह करते हुए कहा की अगर सात दिन में जिन गौ भक्षको द्वारा गौ वंश का वध किया हुआ है। उन्हें एक सप्ताह के भीतर पकड़ कर उनपर कठोर कानूनी कार्रवाई की जाए। अगर जिला पुलिस द्वारा इस हिन्दू विरोधी कृत्य में ढील दी गई या गौ भक्षकों को नहीं पकड़ा गया तो विश्व हिन्दू परिषद् एंव बजरंगदल प्रदेश व राष्ट्रव्यापी आंदोलन शुरू किया जाएगा।

vishal-garments
Facebook Comments

Related posts