- Advertisement -

स्टेट एग्रीकल्चर मार्केटिंग बोर्ड के चेयरमेन बलदेव भण्डारी का सराहां पहुंचने पर हुआ जोरदार स्वागत

भाजपा मंडल पच्छाद की मासिक बैठक गुरुवार को सराहां में सम्पन्न

 

न्यूज़ घाट टीम/सराहां

अगले वर्ष गर्मियों में पच्छाद के किसी भी गांव में पानी की समस्या नही रहेगी। साथ ही पच्छाद को विकसित विस् क्षेत्र बनाया जाएगा, जिसमे विद्युत विभाग की बेहतर सुविधाएं प्रदान करने के लिए 2 करोड़ की धनराशि खर्च की जाएगी। यह बात विधायक सुरेश कश्यप ने
भाजपा मंडल पच्छाद की मासिक बैठक मे गुरुवार को सराहां में कही है। उन्होंने कहा कि पानी जैसी जटिल समस्या से निपटने के मकसद से बताया कि सरकार ब्रिक्स के माध्यम से पच्छाद विस के राजगढ़ विकास खण्ड की 10 पंचायतों के लिए 53.32 करोड़ की जबकि पच्छाद ब्लॉक की 8 पंचायतों के लिए 40 करोड़ की पेयजल योजना बनाई गई है।

hids

उन्होंने कहा कि इनकी डीपीआर बनाकर स्वीकृति हेतु भेज दी गई है। बैठक में सर्व प्रथम स्टेट एग्रीकल्चर मार्केटिंग बोर्ड के चेयरमेन बलदेव भण्डारी का सराहां पहुंचने पर भाजपा कार्यकर्तों ने जोरदार स्वागत किया। बैठक में आगमी लोकसभा चुनाव को लेकर व पच्छाद विस् क्षेत्र की समस्याओं पर भी चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि राजगढ़ की व सराहां की सात सात पेयजल योजनाएं त्यार हो चुकी है जिन पर लगभग 3.50 करोड़ खर्च हुआ है जिनका शीघ्र ही लोकार्पण किया जाएगा। ब्रिक्स के अंतर्गत राजगढ़ की 10 पंचायतों के लिए 53.32 करोड़ जबकि सराहां की 8 पंचायतों के लिए 40 करोड़ रुपये की लागत से पेयजल योजनाओं की डीपीआर तैयार हो चुकी है। कश्यप ने कहा कि बगपशॉग पेयजल योजना का लगभग 80 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। हमारा प्रयास है कि दिसम्बर तक इसका पूरा कार्य कर जनता को समर्पित कर दिया जाएगा।

विधायक ने बताया कि इसके अलावा वर्ष 2018 -19 एस सी -सीपी के तहत 8 स्कीमों का निर्माण किया जा रहा है। जिसमे 5 पेयजल व 3 सिंचाई योजनाओं का कार्य किया जाएगा इसके अलावा पच्छाद में प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत 9 स्कीमों का कार्य किया जा रहा है जिन पर 5.96 करोड़ की राशि खर्च की जा रही है। जोकि आगामी 6 महीनों में पूरी कर ली जाएगी। विधायक ने कहा कि सराहां की बड़ू साहेब पेयजल योजना पर सम्वर्धन का कार्य किया जा रहा है जिस पर करीब 60 लाख खर्च किया जा रहा है इसके पूरा होने पर सराहां की पेयजल समस्या खत्म हो जाएगी। विधायक ने बताया कि 17 लाख की लागत से गागल शिकोर पेयजल योजना पर 17 लाख खर्च किये जा रहे हैं। लगभग 1 करोड़ 1 लाख की लागत से घिनी घाड़ के भरनानूँ की सेर में चेक डेम का निर्माण करवाया जा रहा है। वहीं द्रबली व दाडों देवरिया में 1.11 करोड़ की लागत से सिंचाई योजनाओं का निर्माण करवाया जा रहा है। विधायक ने बैठक में सभी कार्यकर्ताओं को विश्वाश दिलाया कि अगले वर्ष गर्मियों में किसी भी गांव में पानी की समस्या नही रहेगी। इस मौके पर एग्रीकल्चर मार्केटिंग बोर्ड के चेयरमेन बलदेव भण्डारी, नित्यानन्द सेवल,सुरेंद्र नेहरू, अनूप शर्मा,भूपेंद्र ठाकुर,सोहनलाल नागवान, नरेंद्र गोसाई,अजय शर्मा,बिष्णु दत्त,सुमन शर्मा,शिव कुमार,मदन ठाकुर के अलावा दर्जनों लोग मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!