दलाली की राजनीति बंद हुई, इसलिए तड़प रहे सीएलपी नेता मुकेश अग्निहोत्री

CM नही मुकेश कर रहे क्षेत्रवाद की राजनीति, नाटी है हिमाचल की शान

आर.के. शर्मा। ऊना
प्रदेश में धमकी की भाषा मुख्यमंत्री जयराम नहीं बल्कि कांग्रेस विधायक दल के नेता मुकेश अग्निहोत्री प्रयोग कर रहे हैं। यह बात प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कही।  बुधवार को विश्राम गृह में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए सतपाल सत्ती ने कहा कि मुकेश धमका रहे हैं कि जयराम सरकार 5 साल का कार्यकाल पूरा नहीं करेगी और 2019 के चुनाव के बाद कांग्रेस देख लेगी। उन्होंने कहा कि मुकेश अच्छी तरह से बात पल्ले बांध लें कि जयराम सरकार 5 साल कार्यकाल को सफलता से पूरा करेगी और जनता उनकी सरकार को रिपीट करेगी। सत्ती ने कहा कि सरकार के 5 साल पूरे चलने पर मुकेश बताएं कि क्या वह राजनीति से सन्यास लेंगे? भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जनता जानती है कि किसने महिलाओं से चुनावों में शराब व पैसे बंटवाए हैं। उन्होंने कहा कि मुकेश की पत्नी भी मंडी से है, इसलिए, उन्हें हिमाचल की संस्कृति का ध्यान होना चाहिए कि नाटी हिमाचल की शान है।

hids

सतपाल सत्ती ने कहा कि राजनीति में दलाली खत्म हो रही है, इसलिए सीएलपी के नेता परेशान होकर आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि 5 साल जो कांग्रेस के नेता लूट खसोट के रहे थे, अब जनता ऐसी लूट खसोट के लिए कांग्रेस को सत्ता में नहीं देगी। उन्होने कहा कि अभी तो 5 महीने का कार्यकाल हुआ है, अभी तो लंबा सफर तय करना है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम प्रदेश में मर्यादा व संस्कृति से प्रदेश के विकास के लिए काम कर रहे हैं। लेकिन मुकेश अग्निहोत्री क्षेत्रवाद की राजनीति को हवा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ने किसी के प्रति भी गलत शब्दों का प्रयोग नहीं किया है, लेकिन जिस प्रकार से पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह और सीएलपी के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने हाल ही के दिनों में मुख्यमंत्री के प्रति टिप्पणियां की हैं, उसका जवाब जब मुख्यमंत्री ने सधे हुए शब्दों में दिया तो कांग्रेस के नेताओं को तकलीफ हो रही है। सती ने कहा है कि माफिया पर कार्रवाई हो रही है, खनन व नशा माफिया को कुचला जा रहा है। ऐसे में कांग्रेस के नेताओं की तकलीफ हमारी समझ में आ रही है।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार प्रदेश में सुशासन के लिए है और 5 माह की सरकार ने प्रदेश में कल्याणकारी नीतियों आम जनता के हित में लागू की है, जिस से जनता खुश है। सती ने कहा कि प्रदेश में तबादला करना सरकार का अधिकार क्षेत्र है और कर्मचारियों की सुविधा के अनुसार तबादले किए जा रहे हैं। कांग्रेस के नेता हवाई आंकड़े प्रस्तुत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की दाल अब गल नहीं रही है, इसलिए अनर्गल बातें करना वीरभद्र सिंह और सीएलपी नेता की फितरत बन गई हैं। उन्होंने कहा कि वास्तव में कांग्रेस के अंदर जो घमासान चल रहा है, नेतृत्व की लड़ाई चल रही है उसमें एक दूसरे से आगे निकलने के लिए वीरभद्, सुक्खू व मुकेश में होड़ लगी हुई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की आपसी लड़ाई थम नहीं रही है और दूसरों को आईना दिखाने का प्रयास हो रहा है।

उन्होंने कहा कि जनता ने कांग्रेस को विपक्ष में बैठने का फतवा दिया है और अब कांग्रेस विपक्ष में भी फेल हो रही है। उन्होंने कहा कि राजनीति में विपक्ष का भी अहम स्थान है। उन्होंने कहा कि विपक्ष का सम्मान किया जाता है और विपक्ष को भी सत्ता पक्ष का सम्मान करना चाहिए। पत्रकार वार्ता में प्रदेश भाजपा के सह मीडिया प्रभारी हरिओम भनोट, भाजपा नेता अमृतलाल भारद्वाज, सुरजीत सैणी, अशोक धीमान, तिलकराज सैनी, पवन कपिला, खामोश जैतिक सहित अन्य उपस्थित रहे

hids

Leave A Reply

Your email address will not be published.