आखिर कहां खोई है नन्ही बच्ची, पशुओं के अवशेष तो मिले, पर श्रुति का नहीं कोई सुराग

न्यूजघाट टीम। नाहन
करीब 12 हजार फुट की उंचाई की चूड़धार चोटी से 2 जुलाई को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुई श्रुति की तलाश में अब भी सर्च आॅपरेशन जारी है। संभवतः माना जा रहा है कि बच्ची की तलाश में यह अब तक का प्रदेश में सबसे बड़ा सर्च आॅपरेशन हो सकता है। 8 दिनों में चोटी के घने जंगलों में चप्पे-चप्पे पर श्रुति की तलाश की गई, लेकिन अब तक उसका कुछ पता नहीं चल पाया है।

इस मेगा सर्च आॅपरेशन में हैरानी की बात जो निकलकर सामने आ रही है, वो यह है कि इस दौरान पुलिस को चोटी के जंगलों में मरे हुए चूहों व पशुओं तक के अवशेष बरामद हुए है, लेकिन बच्ची का तनिक भर भी कोई सुराग नहीं लग पा रहा है। दूसरी तरफ पुलिस को किसी एंगल से बच्ची के अपहरण का भी संदेह नहीं पा रहा है, चूंकि यदि बच्ची का अपहरण हुआ होता, तो कहीं न कही से कोई क्लयू पुलिस को जरूर मिलता। खुद जिले के एएसपी विरेंद्र सिंह ठाकुर भी कहते है कि यह हैरानी की बात है कि मृत चूहों व पशुओं तक के अवशेष सर्च अभियान के दौरान मिले है। मगर बच्ची की कोई खबर अब तक नहीं लग पाई है।

उन्होंने कहा कि पुलिस सहित सैंकड़ों की तादाद में चोटी पर लोग बच्ची की तलाश कर रहे है। फिलहाल पुलिस के अब भी 50 के करीब जवान चोटी पर बच्ची की तलाश में जुटे हुए है। मगर अब तक कोई कामयाबी हाथ नहीं लग पाई है। उधर खुद को संभालना भी चोटी पर कई बार मुश्किल हो जाता है। वहीं पुलिस व लोग अपनी जान जोखिम में डालकर श्रुति की तलाश में लगे हुए हैं।

- VISHAL GARMENTS -

यहां तक की रविवार को पूरा नौहराधार बाजार भी बंद रखा गया था। 8 दिनों से बच्ची की तलाश में चलाए गए मेगा सर्च ऑपरेशन ने हर किसी को अचंभित भी किया है। अब केवल श्रुति का कोई सुराग मिल जाने को लेकर लाखों लोगों की आंखें भगवान शिरगुल की तरफ टिकी हुई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.