करोड़ों का पुल 3 महीने पहले हो चुका तैयार, पर उद्घाटन की कर रहा इंतजार

-पुराने पुल पर जान हथेली पर रख लोग रहे गुजर, लाखों लोगों की लाइफ लाइन है ये पुल

पवन तोमर। राजगढ़
जिला सिरमौर राजगढ़ उपमंडल के तहत यशवंत नगर में 2 करोड़ 40 लाख रुपयों की लागत से बना पुल करीब तीन महीने पहले बन कर तैयार भी हो चुका है। मगर यह बात समज से परे है कि इस पुल का लोकार्पण लोक निर्माण विभाग क्यों नहीं करवा रहा है। बता दें कि पुराना पुल बहुत सालों पहले बना हुआ है, जोकि इस समय काल बना हुआ है। पुराना पुल कभी भी टूट सकता है और विभाग भी शायद किसी बड़े हादसे होने का इंतजार कर रहा है। वाहनों में सवार लोग हर दिन हथेली पर अपनी जान रखकर इस पुराने पुल से गुजरते रहते है।

hids

विभागीय आधिकारी सब कुछ जानकर भी अनजान बने हुए है। हालंकि सभी विभागों के आधिकारियांे का इसी पुल से आना-जाना लगा रहता है। बता दें कि इस पुल पर हर रोज सैंकड़ो बड़े-छोटे वाहनों का आना और जाना लगा रहता है। गिरिपुल में बने पुल पर सियासत तो खूब हुई, लेकिन आज तक बदहाली की सूरत नहीं बदली और पुराने पुल पर काल नाचता दिखाई देता है। बीजेपी सरकार को पच्छाद में इस बार सता चाहिए थी, तो इस पुल को लेकर खूब सत्याग्रह हुआ, लेकिन अब सता के नशे में मौत की आहट भी सुनाई नहीं दे रही है। गिरिपुल में पुराना पुल रोज जिंदगी का इम्तिहान लेता है, जो वाहन चालक इसे आर पार कर लेते है तो बड़ी चेन की सांस लेते है और खुद को अच्छी किस्मत वाला समझते है। मीडिया द्वारा जब इस पुराने पुल का मुआयना किया गया तो सच में जान अटक गई।

पुल में कही दरारे आई है तो साथ लगी हुई पाइपांे की बनी रेलिंग टूट चुकी है। यह पुल लाखांे लोगो की लाइफ लाइन है, क्योंकि इस पुल से सोलन, राजगढ़, बडू साहिब, हरिपुधार, नौहराधार, नेरवा ,चोपाल, सेंज, शिमला, ठियोग, हाटकोटि, जुब्बल, कोटखाई जैसे प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों पर आना जाना लगा रहता है, लेकिन पुराने पुल की हालत इतनी जर्जर हो चुकी है कि कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। इस पूरे क्षेत्र में किसानों-बागवानो की नगदी फसलों को दूर की मंडियों तक पहंुचाया जाता है।

सुरेंद्र, कपिल, विनोद, संजीव, सुनील, राजीव, संजू, अमित ने बताया कि इस पुराने पुल की हालत प्रतिदिन बद से बदतर होती जा रही है और कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। 2017 में प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी और उस वक्त पच्छाद से भाजपा के विधायक थे, लेकिन 2018 में प्रदेश में भाजपा की सरकार है और पच्छाद में इस बार जनता ने भाजपा के ही विधायक को चुन कर भेजा है। मगर छः महीने से अधिक समय सरकार को बने हो चुका है।

hids

लोगो का कहना है कि जब पुल बन कर तैयार हो चुका है तो नए पुल का क्यों लोकापर्ण नहीं किया जा रहा है। इस बारे जब विभाग के अधिशासी अभियंता विजय जोशी से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि पुल बनकर तैयार हो चुका है। जल्द ही इसे जनता को समर्पित किया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.