- Advertisement -

एआईसीसी सचिव राजेश धर्माणी ने गुरुद्वारा पांवटा साहिब में मात्था टेका

पांवटा पहुंच करीबी मित्रों के साथ की समय बिताया, बडी जिम्मेदारी मिलने के बाद पहली बार उत्तराखंड रवाना

न्यूज़घाट टीम। पांवटा साहिब

hids

एआईसीसी का सचिव व उत्तराखंड का सहप्रभारी नियुक्त होने के पश्चात पूर्व सीपीएस राजेश धर्माणी देर सांय पांवटा साहिब पहुंचे। इस दौरान उन्होंने ऐतिहासिक गुरुद्वारा पांवटा साहिब में शिश निवाया। जहां उन्हें सिरोपा देकर सम्मानित किया गया।

दरअसल दिग्गज कांग्रेस नेता राजेश धर्माणी नई जिम्मेदारी मिलने के बाद पहली बार उत्तराखंड जा रहे थे। उत्तराखंड पहुंचने से पूर्व उन्होंने गुरुद्वारा पांवटा साहिब रुक कर प्रार्थना की। उनका कार्यक्रम पूरी तरह गोपनीय था। स्थानीय कांग्रेस नेताओं को भी इसकी भनक नही थी। हालंकि इस दौरान धर्माणी अपने कुछ मित्रों से अवश्य मिले।

जिनमें प्रदीप खुराना, मोहनीश मोहन, संजीव नागपाल के इलावा उनका स्वागत करना उत्तराखंड से पांवटा साहिब पहुंचे संजय किशोर, मोहम्मद खालिद, संजीव चावला, जीतेंद्र रावत, फुरकान अहमद व मोहित बिष्ट आदि मौजूद थे।

hids

Leave A Reply

Your email address will not be published.