सनसनी : कलियुगी भांजे ने मौसी को इस बेरहमी से उतारा मौत के घाट, कसूर था बस इतना

आरोपी की दरिंदगी पढ़कर हो जाएंगे हैरान

आरके शर्मा। ऊना
चिंतपूर्णी क्षेत्र के तहत गांव घंघरेट में एक बुजुर्ग महिला की हत्या किए जाने का मामला सामने आया है। मृतका की पहचान सुनीता देवी (७०) निवासी घंघरेट के रूप में हुई है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाने की कार्रवाई शुरू कर दी है। जबकि मामले में पुलिस ने आरोपी रणजीत सिंह निवासी जालंधर को भी गिरफ्तार कर लिया है।

महिला रिश्ते में आरोपी की मासी सास लगती है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार बुधवार रात को जब सुनीता देवी (30) के घर रणजीत अपनी पत्नी व बच्चों के साथ आया हुआ था। रात को रणजीत कथित तौर पर नशे में धुत्त होकर घर पहुंचा, जिस दौरान बच्चे आपस में लड़-झगड़ रहे थे और वहसबाजी कर रहे थे। इसी दौरान उसने बच्चों को लात-घूसों से पीटना शुरू कर दिया। यही नहीं साथ पड़े डंडे के साथ बच्चों के शरीर पर निशान तक डाल दिए।

इसी बीच बच्चों को छुड़वाने मां आगे बढ़ी लेकिन रणजीत ने पत्नी को भी डंडों और पत्थरों से लहूलुहान कर दिया। वही पत्नी मौका देख वहां से भाग गई लेकिन जब मौसी मौके से बच्चों को बाप की पिटाई से बचा अन्य कमरे में ले जाने लगी तो पीछे से रणजीत ने उस पर डंडे और पत्थर से वार कर दिए। वह मौके पर ही बेसुध पड़ गई। वहीं जब स्थानीय लोग उसके बचाव में आगे बढ़े तो रणजीत ने उन्हें भी पत्थरों से जख्मी कर डाला। जिस कारण आस पड़ोस से भी किसी द्वारा इस सारे घटनाक्रम में बीच बचाब करने नहीं उतरा।

मामले की सूचना मिलते ही पंचायत प्रधान अंजना रानी मौके पर पहुंची। सुनीता ने हादसे के थोड़ी देर बाद ही दम तोड़ दिया। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने आरोपी रणजीत को गिरफ्तार कर लिया। मामले की सूचना मिलते ही एसपी दिवाकर शर्मा भी मौके पर पहुंचे व घटना स्थल का जायजा लिया। उधर, आरोपी के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई जारी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.