- Advertisement -

करंट से मौत मामले में पुलिस पर लीपापोती के आरोप, डीएसपी को सौंपी शिकायत 

कहा - राजनीतिक दबाव के चलते गैर इरादतन हत्या की जगह किया लापरवाही का मामला दर्ज

अशोक बहुता। पांवटा साहिब

hids

टोका नगला में करंट से 17 वर्षीय युवक की मौत के मामले में ग्रामीणों ने पुलिस पर लीपापोती का आरोप लगाया है। ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस ने गलत धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। ऐसा आरोपी को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया।

डीएसपी पांवटा साहिब प्रमोद चौहान को सौंपी गई शिकायत में ग्रामीणों गंभीर आरोप लगाए हैं। आरोप है कि पुलिस ने राजनीतिक दबाव के चलते गैर इरादतन हत्या का मामला ना दर्ज कर महज लापरवाही का मामला दर्ज किया है।

इस बारे में डीएसपी को शिकायत सौंपते हुए देवरथ और गौरव निवासी टोका नगला ने बताया कि गुरदास राम उर्फ  गासो ने अपना खेत शकील को लीज पर दिया हुआ है।

जिसमें गुरदास खेत की रखवाली करता था। यह दोनों आरोपी खेतों में करंट की तारें डालकर जंगली जानवरों को मारने का काम करते थे। इस करंट के कारण पहले एक व्यक्ति धर्म सिंह को भी करंट लग चुका है।

इसके अलावा 2 नील गायों की जान भी जा चुकी है जिनमें से एक वही खेत में दफन है। अभी कुछ रोज पहले ही 17 वर्षीय हितेश जब इस खेत से गुजर रहा था तो करंट लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

उन्होंने कहा यह मामला सीधा-सीधा 304 गैर इरादतन हत्या का बनता है लेकिन पुलिस ने आरोपियों को बचाने के लिए इस मामले में धारा 304 ए लगाई है।

कहां गई वन्य प्राणी act और बिजली चोरी की धाराएं…?

इसके अलावा पीड़ितों ने बताया कि इस पूरे मामले में कुछ और पहलुओं को भी पुलिस द्वारा नजरअंदाज किया गया है। जैसे कि वन्य प्राणियों को मारने हुआ बिजली चोरी यह धाराओं को मामले में नहीं लगाया गया है।

उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा की जा रही है जांच पर उन्हें भरोसा नहीं है । मामले में जांच अधिकारी बदला जाए व उच्च अधिकारी द्वारा इसकी जांच करवाई जाए।

उधर इस बारे में DSP प्रमोद चौहान ने कहा कि मामले की जांच के बाद सही धारा के तहत मामला दर्ज किया गया है। अभी जांच की जा रही है और भी धाराएं लगाई जा सकती।

hids

Leave A Reply

Your email address will not be published.