डा. परमार जयंती का BJP कर रही भगवाकरण, लोस चुनाव में भुगतने होंगे परिणाम

सिरमौर की राजपूत सभा के जिलाध्यक्ष दिनेश चौधरी ने आहत होकर दिया इस्तीफा

न्यूजघाट टीम। नाहन
हिमाचल निर्माता डा. वाईएस परमार की 112वीं जयंती समारोह का भाजपा भगवाकरण कर रही है। बता दें कि शनिवार शाम को नाहन में परमार जयंती पर एक राज्य स्तरीय समारोह का आयोजन किया जा रहा है। इसमें सांस्कृतिक संध्या सहित कई कार्यक्रम आयोजित होने है। कार्यक्रम में डा. राजीव बिंदल ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत करनी है।

इसी कार्यक्रम को लेकर सिरमौर की राजपूत सभा ने मोर्चा खोलते हुए बड़ा ऐलान किया है। हिमाचल निर्माता डॉ. वाईएस परमार की जयंती समारोह का भाजपा भगवाकरण कर रही है। इसका परिणाम उन्हें 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में भुगतना होगा। भाजपा द्वारा इस कार्यक्रम के भगवाकरण से आहत होकर जिला सिरमौर राजपूत सभा के अध्यक्ष ने उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। यह आरोप शनिवार को नाहन में आयोजित पत्रकार वार्ता में सभा के अध्यक्ष दिनेश चौधरी ने लगाए।

उन्होंने कहा कि डॉ. परमार के गृह जिले में आयोजित सभी जयंती समारोह को भगवा रंग दिया गया है। जबकि सच्चाई यह है कि हिमाचल निर्माता किसी पार्टी विशेष के नहीं है। आज पूरा प्रदेश उन्हें स्मरण कर रहा है। उनके बताए रास्तों पर चलने की शपथ ले रहा है। मगर सिरमौर जिले में भाजपा कुछ और ही करने में लगी हुई है। इस मौके पर दिनेश चौधरी ने राजपूत सभा की अस्थाई कार्यकारिणी बनाने की घोषणा भी की। उन्होंने कहा कि राजपूत सभा में उनके अध्यक्ष रहते हुए नाहन के यशवंत चैक पर डॉ. वाईएस परमार की प्रतिमा लगवाई गई है। साथ ही इसकी देखरेख व अन्य कार्य किए हैं।

उन्होंने हैरानी जताते हुए कहा कि अब जब जयंती समारोह हो रहा है तो उन्हें इसमें शामिल तक नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यक्रम का भगवाकरण कर आयोजन से वाहवाही लूट रही है। अच्छा होता यदि भाजपा कार्यकर्ता डॉ. यशवंत सिंह परमार की प्रतिमा के जीर्णोद्धार, वहां पर सफाई व्यवस्था व अन्य कार्यों के लिए अपनी जिम्मेवारी सुनिश्चित करते।

Leave A Reply

Your email address will not be published.