जयराम सरकार में भयमुक्त है कर्मचारी, पहले तथ्यों को जान लें सोलंकी वरना करेंगे घेराव

अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ ने सिरमौर कांग्रेस अध्यक्ष को दी चेतावनी

न्यूजघाट टीम। नाहन
कांग्रेस को यह नहीं भूलना चाहिए कि उसने अपने कार्यकाल में हजारों कर्मचारियों को प्रताडि़त किया है, कांग्रेस सरकार ने अपने कार्यकाल में हजारों की संख्या में तबादले किए है। यह बात जिला अराजपत्रित कर्मचारी अध्यक्ष राजेन्द्र बब्बी ने भाजपा सरकार पर कर्मचारियों के उत्पीड़न के बयान पर कड़ा प्रहार करते हुए कही ।

उन्होने कहा कि जब हाईकोर्ट ने इसका संज्ञान लिया तो वीरभद्र सिंह सरकार ने आनन-फानन में ट्ब्यिूलन का पुनः गठन कर दिया। महासंघ के जिला अध्यक्ष राजेन्द्र बब्बी ने, महासचि रमेश भारद्वाज, वरिष्ठ उप प्रधान बैसाखी, उपाध्यक्ष अनिल गौतम, प्रीतम कौर, यासमीन, हरदेव, दवेन्द्र मोहिल, रवि भारद्वाज, आशीष गौतम, दीपक चंदेल, शैलजा पुरी, मोनिका, नाहन यूनिट के प्रधान आकाश बिश्नोई तथा महासचिव राजेश शर्मा ने यहां जारी एक बयान में कांग्रेस जिला अध्यक्ष अजय सोलंकी को चेतावनी देते हुए कहा कि वह कर्मचारियों पर दिए जाने वाले बयानों के तथ्यों को सही प्रकार से परख ने वरना उनके कांग्रेस कार्यकाल के सभी मामले सार्वजनिक किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर की सरकार में कर्मचारी भयमुक्त और स्वतंत्र रूप से कार्य रहे हैं जबकि कांग्र्रेस सरकार में कर्मचारियों को डराया, धमकाया और सस्पेंड किया जाता था।

महासंघ पदाधिकासरियों ने कहा कि सिरमौर के कर्मचारियों को आज भी पता है कि 24 दिसम्बर, 2012 को प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनते ही 29 दिसम्बर को सिरमौर समेत पूरे प्रदेश में हजारों कर्मचारियों को यहां से वहां पटक दिया गया था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में तबादला उद्योग चला हुआ था और स्थानांतरण की दरेे निर्धारित थी, जहां सीधे तौर पर शिमला बुलाकर पैसों का लेन-देन होता था। उन्होंने कहा कि जब से प्रदेश में जय राम ठाकुर की सरकार बनी है प्रदेश के कर्मचारियों मे ंवर्क कल्चर में बढ़ौतरी हुई है और हर कर्मचारी स्वतंत्र रूप से अपने कार्य को अंजाम दे रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कर्मचारी वर्ग ईमानदारी के साथ कार्य कर रहे हैं और कांग्रेस की गुलामी से कर्मचारियों को निजात मिली है।

अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के पदाधिकारियों ने कहा कि सिरमौर और प्रदेश के कर्मचारियों को याद है कि वीरभद्र सिंह ने अपने चुनावी बयान में कर्मचारियों को धमकाते हुए कहा था कि कर्मचारियों और अधिकारियों को कब्र से खोदकर भी उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि जयराम ठाकुर सरकार कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रख कर कार्य कर रहे हैं इससे कांग्रेस नेताओं को तकलीफ हो रही है। महासंघ के पदाधिकारियों कहा कि कांग्रेस जिला अध्यक्ष कर्मचारियों पर झूठे और तथ्यहीन बयानबाजी से परहेज करें वर्ना उनका घेराव किया जाएगा और कांग्रेस के झूठ के झूठ का पर्दाफाश किया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.