किन्नर कैलाश यात्रा पर एक श्रद्धालु की मौत, 100 से अधिक फंसे, यात्रा स्थगित

न्यूजघाट टीम। शिमला
हिमाचल प्रदेश के किन्नर कैलाश धार्मिक यात्रा के दौरान एक और श्रदालु की गुफा नामक स्थान में मौत हो गई है। विकट मौसम के चलते यात्रा स्थगित कर दिया गया है। 100 से अधिक श्रदालुओ को सेना , आईटीबीपी, पुलिस और होमगार्ड की मदद से रेस्क्यू किया जा रहा है। किन्नर कैलाश यात्रा में मारे गए श्रदालु की पहचान संजय उमर करीब 60 वर्ष निवासी मुजफर पुर के रूप में हुई है। मौत हाईफ़ोथर्मिया से हुई बताया जा रहा है। शव को घटना स्थल से आज लाने का प्रयास किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि किन्नौर ज़िला मुख्यालय के समीप पोवारी से पैदल चढ़ाई चढ़ कर किन्नर कैलाश की पैदल यात्रा आरम्भ होती है। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर ज़िला मुख्यालय रिकांग पिओ के ठीक सामने से हो कर गुजरते है। किन्नर कैलाश की ऊंचाई 19850 फिट है। खड़ी चढ़ाई होने के कारण यहां पहुँचना काफी कठिन होता है। किन्नौर प्रशासन ने 2 से 11 अगस्त तक के लिए आधिकारिक तौर से यात्रा आरम्भ की थी।

प्रशासन ने विकट मौसम की स्थिति में किसी भी समय यात्रा रोकने की चेतावनी दी थी। क्षेत्र में लगातार हो रही भारी बारिश को देखते हुए ज़िलाधीश किन्नौर ने यात्रा को स्थगित करने के निर्देश दिए है। यात्रा मार्ग में फंसे सौ से अधिक श्रदालुओ को रेस्क्यू के लिए सेना , आईटीबीपी, पुलिस और होमगार्ड की रेस्क्यू टीम बना कर रवाना कर दिया गया है। बताया जा रहा हैकि यात्रा आखरी पड़ाव स्थल गुफा नामक स्थान में सौ से अधिक श्रदालु फंसे है और सुरक्षित है उन्हें आज रेस्क्यू किया जाएगा।

मुजफ्फरपुर के श्रदालु की इसी स्थान पर मौत हो गई है। शव को भी आज रेस्क्यू टीम सड़क मार्ग तक पहुंचाने का प्रयास करेगी। बताया जा रहा है कि यात्रा मार्ग में लगातार तेज बारिश हो रही है जिस से ठंड अधिक हो गई है। और यात्रा करना मुश्किल हो रहा है। किन्नौर ज़िला प्रशासन के प्रवक्ता ने बताया कि यात्रा को पूर्ण रूप से रोक दिया गया है। रास्ते मे फंसे श्रदालुओ को सेना और अर्द्ध सैनिक बलो के जवानों की टीम बना कर रेस्क्यू के लिए रवाना किया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.